अशोक गहलोत बोले : मोदी सरकार ने देश में दो कानून बना रखे हैं

Font Size

नई दिल्ली : कांग्रेस पार्ट्री की अध्यक्ष सोनिया गांधी से ई डी की पूछताछ को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर नरेंद्र मोदी सरकार की जमकर आलोचना की. उन्होंने कहा कि इस सरकार का रवैया बहुत ही निम्न स्तर का है। इस सरकार को यह चिंता ही नहीं है कि यह देश क्या सोच रहा होगा ? उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में ऐसा नहीं होता था .आज सोनिया गांधी को जिस रूप में बुलाया गया है, वो बेहतर तरीके से हो सकता है।

उन्होंने कहा कि हम मानते हैं कि कानून सभी के लिए समान होता है, लेकिन इनके शासन में कानून सभी के लिए समान नहीं है. भाजपा के शासन में कानून सभी के लिए समान नहीं है। श्री गहलोत ने यह कहते हुए कटाक्ष किया कि  इनके लिए जो NDA में आता है, BJP ज्वाइन कर लेता है, उसके लिए कानून बदल भी जाता है.  इस सरकार ने देश के लिए दो कानून बना रखे हैं, जो विपक्ष के लिए अलग है और इनके खुद के लिए अलग है।  इस प्रकार आज यह मुल्क चल रहा है.

उन्होंने बल देते हुए कहा कि ऐसा केस हाथ में लिया गया है, ED का जिस पर कोई हक नहीं है. ED को एक प्रेस कांफ्रेंस कर देश को बताना चाहिए कि वो सोनिया गांधी , राहुल गांधी को क्यों बुला रहे हैं ? उन्होंने यह कहते हुए आरोप लगाया कि इस सरकार की फितरत यह है कि आज हमारी जगह ये होते तो आग लगा देते, तोड़-फोड़ कर देते और हमारे यहाँ आप देख सकते हैं कि भजन हो रहे हैं। आप इसी से समझ सकते हैं कि कांग्रेस की सोच क्या है और इनकी सोच क्या है ?

अशोक गहलोत ने मोदी सरकार को यह कहते हुए नसीहत दी कि इन्हें पूरे विपक्ष को बुलाकर बातचीत करनी चाहिए। कोई दुश्मन तो होते नहीं हैं राजनीति के अंदर और न ही होना चाहिए, लेकिन ये विपक्ष को दुश्मन मानते हैं .पहले ये सरकार कांग्रेस मुक्त भारत की बात करती थी, लेकिन अब इनका मंत्र है कि विपक्ष मुक्त भारत बने, तानाशाही हो देश के अंदर, उसी दिशा में देश जा रहा है .

उनका आरोप था कि लोकतंत्र में ED सरकार को गिराने का इनका बहुत बड़ा हथियार हो गया है। इससे घटिया बात कोई हो नहीं सकती कि आप एक एजेंसी के माध्यम से डरा-धमकाकर सरकार बदलते हो और गर्व महसूस करते हो.

उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी के बारे में विदेशी होने के जुमले सुनते थे। लेकिन उस महिला ने जिस तरह हिंदुस्तान के संस्कार और संस्कृति अपनाई, उसका लोहा इस देश की महिलाएं भी मानती हैं”.”सोनिया गांधी जी ने इस देश के लिए, कांग्रेस पार्टी के लिए जिस तरह अपनी जान लगा दी, उसको हम कभी भूल नहीं सकते”.राजनीति में वही कामयाब हो सकता है, जो सभी को साथ लेकर चलता है।

उन्होंने दावा किया कि अब तक गांधी परिवार की साख बढ़ी हुई है, क्योंकि ये परिवार सभी को साथ लेकर चलता है .राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि बेशर्म और तानाशाही हुकूमत उस परिवार को तंग कर रही है, जिसने देश के लिए कुर्बानी दी है।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: