लोहड़ी आयोजन में गोली चलाने वाले मामले में एक और आरोपी पकड़ा गया

Font Size

गुरुग्राम । लोहड़ी का पर्व मना रहे लोगों पर अज्ञात युवकों द्वारा गोलियां चलाने के मामले में अपराध शाखा सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। ऊक्त आरोपी ने अपने अन्य साथियों सहिय लोहड़ी के आयोजन में जबरन घुस कर उत्पात मचाया था और विरोध करने पर तीन लोगों को गोली मारकर घायल कर दिया था।

आरोपी के अन्य साथियों द्वारा वारदात में प्रयोग की गई 01 पिस्तौल, 02 जिन्दा कारतूस व स्कार्पियों ,पुलिस टीम द्वारा आरोपी के पहले साथी के कब्जा से पहले ही बरामद की गई है।

गुरुग्राम पुलिस के पी आर ओ सुभाष बोकन के अनुसार गत 13 जनवरी को थाना सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम को एक सूचना गुरुग्राम पुलिस कंट्रोल रूम से मकान नम्बर-83, सैक्टर-40, गुरुग्राम के पास गोली चलने के संबंध में प्राप्त हुई थी।

▪इस सूचना पर थाना सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी के घटनास्थल पर पहुँच गई। जहां पर पुलिस टीम को ज्ञात हुआ कि गोली लगे हुए लोगों को मैक्स व फोर्टिस हॉस्पिटल, गुरुग्राम में ईलाज के लिए ले गए।

सुभाष बोकन ने बताया कि उक्त सूचना पाकर पुलिस टीम मैक्स हॉस्पिटल पहुँची जहां पर गोली लगने के कारण घायल हुए विनय वत्स के भाई अजय वत्स पुत्र एस. पी. वत्स निवासी मकान नंबर-83, सैक्टर-40, गुरुग्राम ने पुलिस टीम को एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि दिनाँक 13.01.2020 को इसके परिवार ने लोहड़ी का त्यौहार बनाने के लिए टैंट लगाकर आयोजन किया था। इन्होंने यह आयोजन समय करीब 7.30 PM पर शुरू किया था। इन्होंने टैंट के एक कोने में ही एक टेबल ड्रिंक्स के लिए लगाई हुई थी और उस टैंट में इसके परिवार व रिश्तेदार थे। समय करीब 11.00 बजे रात को एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी आकर टेंट के पास आकर रुकी, जिसमें से 05 युवक उतरकर टेंट के अंदर आए और फोटोग्राफर से कहा कि वो इनकी फोटो खींचे, इसी दौरान इसकी नजर उन पर पड़ी तो इसने फोटोग्रापर से पूछा ये कौन है तो फोटोग्रापर ने कहा वह उन्हें नही जानता। तभी एक लड़के ने ड्रिंक्स की टेबल के पास जाकर एक बोतल उठा ली और बोतल को ऊपर नीचे करने लगा। इसने जब उससे जाकर पूछा कि तुम कौन हो तो उसने इसको धक्का मारा। नजदीक खड़े इसके भाई विनय ने उसे पकड़ लिया तो उसके अन्य 04 साथियों में से एक साथी ने पिस्तौल निकली और इसके भाई पर गोली चला दी जो इसके भाई के सीधे हाथ पर लगी और दूसरी कन्धे पर। गोली चलने के कारण वहां पर मौजूद लोगों ने उन्हें घेर लिया। खुद को घिरा हुआ पाकर उन लोगों ने अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दी। जो वहां पर मौजूद पवन कुमार व विनित चोपड़ा के पैरों में लगी। उसके बाद वो लड़के अपनी गाड़ी में बैठे और रास्ते मे खड़ी गाड़ी को टक्कर मारी तथा उसके चालक से गाड़ी हटाने की धमकी देते हुए वहाँ से भाग गए। उसके बाद इन्होंने गोली लगने के कारण घायल हुए तीनों लोगों को हॉस्पिटल में दाखिल करवा दिया।

उनके अनुसार इस शिकायत पर थाना सैक्टर-40, गुरुग्राम में IPC की व Arms Act की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया था।

▪ इस अभियोग में अपराध शाखा सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए उक्त अभियोग में हत्या की नियत से गोली मारने की वारदात में शामिल एक आरोपी को दिनांक 14.01.2020 को सैक्टर-22, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की थी। आरोपी की पहचान जयनारायण पुत्र सत्यनारायण निवासी गाँव भाद थाना सिविल लाईन, सतना, मध्य प्रदेश, उम्र 28 वर्ष के रुप में हुई थी। आरोपी को उपरोक्त में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया था।

गुरुग्राम पुलिस के पी आर ओ ने बताया कि पुलिस पूछताछ में आरोपी से ज्ञात हुआ कि था यह अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर गुरुग्राम में मथुङ फाईन्स, मानेसर गुरुग्राम में शराब के ठेके से व रेवाङी बावल में हथियार के बल पर लूट की वारदातों को अन्जाम दे चुका है तथा 4 बार जेल जा चुका है।

गत 13 जनवरी की रात को यह अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर फरारी काट रहा था। इन्होनें शराब पी रखी थी। सैक्टर-40 में टैन्ट लगा देखकर ये लोग उसमें खाना खाने के लिए चले गए, किन्तु वहां पर लोगों ने इन्हें पहचान लिया कि ये लोग अजनबी है। उसके बाद इन्होनें वहां पर मौजूद लोगों पर गोलियां चलाई और वहां से भाग गए।

▪आरोपी द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग की गई 01 पिस्तौल, 02 जिन्दा कारतूस व 01 स्कार्पियों गाङी पुलिस टीम द्वारा आरोपी के कब्जा से बरामद की गई थी।

सुभाष बोकन का कहना है कि उपरोक्त अभियोग में आगामी कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा सैक्टर-40, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपनी मेहनत व अपने गुप्त सूत्रों की सहायता से उपरोक्त अभियोग की वारदात को अंजाम देने में शामिल दूसरे आरोपी को कल 20.01.2020 को राजीव चौक, गुरुग्राम के पास से काबू करने में सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान अमन उर्फ सूखा पुत्र मनोहर सिंह निवासी लाडपुर, थाना कंझावला, दिल्ली-110088 के रूप में हुई।

👁‍🗨 आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

👁‍🗨 आरोपी ने पुलिस पूछताछ में उपरोक्त अभियोग में अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया है।

👁‍🗨 आरोपी को आज दिनाँक 21.01.2020 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 02 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया है।

👁‍🗨 पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपी से उपरोक्त अभियोग की वारदात में शामिल अन्य साथी आरोपियों व अन्य वारदातों के बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी। पुलिस पूछताछ में जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके अनुसार नियमानुसार आगामी कार्यवाही की जाएगी। आरोपी से पूछताछ जारी है। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: