गुडगाँव के ध्रुव खोसला ने उज़्बेकिस्तान में शतरंज में जीता रजत पदक 

Font Size

– हरियाणा चैस एसोसिएशन और जिला चैस एसोसिएशन गुडगाँव के सभी पदाधिकारियों ने उन्हें बधाई दी

– सिल्वर मैडल जीत के लिए उनको कैंडिडेट मास्टर (सीएम) की उपाधि भी मिली

– ध्रुव खोसला ने 9 राउंड में 6.5 अंक हासिल किए

गुरुग्राम : उज़्बेकिस्तान में हाल ही में संपन्न हुई एशियन स्कूल शतरंज प्रतियोगिता में गुडगाँव के ध्रुव  खोसला ने इवेंट के क्लासिकल सेक्शन में अंडर 11 कैटेगरी में दूसरा स्थान (सिल्वर मेडल) जीत कर प्रदेश का नाम रोशन किया । दी हरियाणा चैस एसोसिएशन के महासचिव एडवोकेट नरेश शर्मा द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार  ध्रुव ने इवेंट में शानदार प्रदर्शन किया और उज्बेकिस्तान, ईरान, भारत और काजाखस्तान के शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ खेला और 9 राउंड में 6.5 अंक हासिल किए। उन्होंने 1st स्थान के लिए टाई किया और टाई-ब्रेक नियमों के कारण उन्हें दूसरा स्थान मिला। उन्होंने अपनी रेटिंग में 85 अंकों की वृद्धि की और अपनी रेटिंग को 1690 तक बढ़ा दिया। सिल्वर मैडल जीत के लिए उनको कैंडिडेट मास्टर (सीएम) की उपाधि भी मिली, जो शतरंज में एक प्रतिष्ठित स्तर है। हरियाणा चैस एसोसिएशन और जिला चैस एसोसिएशन गुडगाँव के सभी पदाधिकारियों ने उन्हें बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की .

 

ध्रुव ने 6 वर्ष की आयु में शतरंज खेलना शुरू किया और वर्षों से कई राज्यों, राष्ट्रीय और ओपन टूर्नामेंटों में भाग लिया और अच्छा प्रदर्शन किया। उनकी उल्लेखनीय जीत में  नवंबर-2018 को ग्वालियर में आयोजित टूर्नामेंट में अंडर 11 सीबीएसई नेशनल चैंपियन बनना शामिल है

– एक उपलब्धि जिसके लिए उन्हें दी हरियाणा चैस एसोसिएशन  द्वारा सम्मानित भी किया गया था

ध्रुव नोएडा के लोटस वैली इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते हैं और एक उत्साही पाठक हैं और शतरंज और क्रिकेट खेलने का आनंद लेते हैं। उनकी बहन, ईशा खोसला भी एक राज्य और राष्ट्रीय शतरंज खिलाड़ी हैं और हाल ही में अंडर 13 हरियाणा राज्य शतरंज चैम्पियनशिप में तीसरे स्थान पर रहीं। ध्रुव के माता-पिता – शालिनी खोसला और मोहित खोसला दोनों ही यूएस मल्टीनेशनल कंपनियों में वरिष्ठ वित्त सलाहकार  हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: