परिणीति ने डेब्यू फिल्म से ही क्यों छोड़ दी थी अपनी पहचान ?

Font Size

नई दिल्ली। फिल्म ‘लेडीज वर्सेस रिकी बहल’ से डेब्यू करने वाली परिणीति चोपड़ा अपने चुलबुले अंदाज को लेकर अक्‍सर लाइमलाइट में रहती हैं। अपनी पहली ही फिल्म से उन्हें पहचान मिली और बेस्ट डेब्यू एक्ट्रेस का अवॉर्ड भी। फिर आई परिणीति चोपड़ा की फिल्म इश्कजादे। अर्जुन कपूर के साथ उनकी केमिस्ट्री कमाल की थी। उन्‍होंने इस फिल्म से ये साबित कर दिया कि उनके अंदर वो हुनर और जुनून है, जिससे एक मुकाम हासिल किया जा सकता है।

परिणीति से जुड़ीं कुछ खास बातें :

परिणीति का जन्‍म 22 अक्टूबर 1988 को अंबाला में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। उनके पिता पवन चोपड़ा एक बिजनेसमैन हैं। मशहूर अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा उनकी चचेरी बहन हैं।

परिणीति ने अंबाला के ही जीसस एंड मैरी कान्‍वेंट से पढ़ाई की। पढा़ई में परिणीति हमेशा से ही काफी धुरंधर रही हैं। वो एक इन्‍वेस्‍टमेंट बैंकर बनना चाहती थीं। परिणीति ने मैनचेस्टर बिजनेस स्‍कूल से बिजनेस, फाइनेंस और इकोनॉमिक्स में ट्रिपल ऑनर्स किया।

पढ़ाई के दौरान वो नए छात्रों की ओरिएंटेशन क्‍लासेज भी लिया करती थीं, उन्‍होंने मैनचेस्‍टर फुटबॉल क्‍लब के कैटिरंग डिपार्टमेंट के टीम लीडर के तौर पर भी पार्ट टाइम काम किया। परिणीति साल 2009 में आई आर्थिक मंदी के कारण मैनचेस्टर से भारत लौट आईं।

मुंबई आने पर परिणीति ने यश राज फिल्म्स में पब्लिक रिलेशन कंसलटेंट के तौर पर काम किया। इस दौरान परिणीति ने दिल बोले हड़िप्पा’, ‘रॉकेट सिंह’, ‘बदमाश कंपनी’, ‘लफंगे परिंदे’ और ‘बैंड बाजा बारात’ जैसी सफल फिल्मों में मैनेजमेंट का काम संभाला। बाद में इसी बैनर ने उन्‍हें बतौर अभिनेत्री भी लांच किया।

यश राज फिल्म्स में काम करते समय परिणीति ने एक दिन रानी मुखर्जी की पर्सनल असिस्टेंट के तौर पर भी काम किया था। परिणीति मे बताया कि सबसे पहली बार रानी ने ही उन्हें बताया कि उनमें वो बात है जो एक बॉलीवुड एक्ट्रेस में होनी चाहिए।

परिणीति को पहले फिल्मों और एक्टिंग में खास रूचि नहीं थी। वह इस प्रोफेशन में इसलिए भी नहीं आना चाहती थीं, क्योंकि उन्हें बहुत मेकअप लगाना पड़ता। हालांकि, जब उन्होंने बहन प्रियंका का काम देखा तो उनकी सोच में बदलाव हुआ।

परिणीति शास्त्रीय संगीत की भी काफी अच्छी जानकार हैं। उन्‍होंने संगीत में बीए आनर्स भी किया हुआ है। ‘हंसी तो फंसी’, ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘किल दिल’ और ‘मेरी प्यारी बिंदू’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं परिणीति ने पहली बार फिल्‍म ‘मेरी प्यारी बिंदू’ में गाना भी गाया।

परिणीति को अभिनेता सैफ अली खान बेहद पसंद हैं। एक इंटरव्यू में परिणीति मे बताया था कि वो लेज़ के पैकेट जमा करती थीं क्योंकि उन पर सैफ की तस्वीर बनी होती थीं। जब भी वो कभी सैफ या करीना से मिलती हैं तो वो बस इसी बारे में बात करती है कि सैफ को लेकर वो कितनी जूनूनी थीं।

फिल्मों में परिणीति के काम की तो खूब सराहना हुई, लेकिन उनके वजन के कारण काफी आलोचना भी हुई। परिणीति ने खुद को फिट करने का फैसला किया और देश छेड़ दिया। उन्‍होंने ऑस्ट्रिया में डेटॉक्स प्रोग्राम को फॉलो किया। यह वजन कम करने की एक विधि है, इसमें कोई सर्जरी नहीं की जाती।

हाल ही में परिणीति की फिल्म ‘नमस्ते इंग्लैंड’ रिलीज हुई। इसमें अर्जुन कपूर लीड रोल में हैं। हालांकि, यह मूवी बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पा रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *