उड़ान योजना के तहत ग्रीनफील्ड सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे से उड़ान शुरू : नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया उद्घाटन

6 / 100
Font Size

नई दिल्ली। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य एम सिंधिया ने भारत सरकार की आरसीएस-उड़ान (क्षेत्रीय संपर्क योजना- उड़े देश का आम नागरिक) योजना के तहत महाराष्ट्र में ग्रीनफील्ड सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे का वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया। साथ ही उन्होंने सिंधुदुर्ग से मुंबई के लिए पहली उड़ान को  झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव राजीव बंसल, नागरिक उड्डयन मंत्रालय की संयुक्त सचिव उषा पाढी और एलायन्स एयर के सीईओ विनीत सूद भी उपस्थित थे। वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने वर्चुअल माध्यम के जरिए मुख्य अतिथि के रूप में सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे से इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे से वर्चुअल माध्यम के जरिए कार्यक्रम में अन्य गणमान्य व्यक्तियों में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री श्री नारायण राणे, सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रामदास अठावले, महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री श्री अजित पवार, महाराष्ट्र सरकार में राजस्व मंत्री श्री बालासाहेब थोराट, महाराष्ट्र के पर्यटन, पर्यावरण व प्रोटोकॉल मंत्री श्री आदित्य ठाकरे, महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री श्री सुभाष देसाई, महाराष्ट्र के उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री उदय सामंत और लोक सभा सांसद श्री विनायक राउत के साथ अन्य महत्वपूर्ण हितधारकों भी शामिल थे।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम सिंधिया ने अपने संबोधन में कहा, “सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे का उद्घाटन और मुंबई के लिए उड़ान की शुरुआत कोंकण क्षेत्र के गौरवशाली इतिहास में एक नया अध्याय है। यह विकास स्थानीय व्यापार और पर्यटन की वृद्धि के नए रास्ते खोलेगा। मुझे विश्वास है कि इस क्षेत्र की अपार संभावनाओं के साथ अगले 5 वर्षों के भीतर दैनिक उड़ानों की संख्या बढ़कर 20-25 हो जाएगी।”

यह दिन महाराष्ट्र के लोगों के लिए एक अत्यंत महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि यह उद्घाटन राष्ट्रीय हवाई मानचित्र पर महाराष्ट्र के तटीय कोंकण क्षेत्र को जोड़ता है। नई उड़ानें यात्रियों को सुविधा और आराम प्रदान करेंगी और लोगों के लिए कोंकण क्षेत्र तक आसानी से पहुंचने के लिए एक प्रवेश द्वार के रूप में काम  करेंगी, जो अपने प्राचीन समुद्री तटों, मंदिरों और किलों के लिए प्रसिद्ध है। इन नई उड़ानों से सिंधुदुर्ग के लोगों को न केवल मुंबई की यात्रा में सुविधा होगी, बल्कि उनके लिए मुंबई से सीधे जुड़े अन्य महानगरों जैसे, दिल्ली, पुणे, कोलकाता, हैदराबाद के साथ भी अतिरिक्त संपर्क का रास्ता खुल जाएगा। इसके अलावा सिंधुदुर्ग हवाई अड्डा उत्तर-गोवा की यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है।

महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग जिले में स्थित सिंधुदुर्ग हवाई अड्डे को चिपी हवाई अड्डे के नाम से भी जाना जाता है। यह हवाई अड्डा 275 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है। वहीं रनवे की लंबाई 2500 मीटर (8202 फीट) है और एयरबस ए-320 व बोइंग बी-737 जैसे संकीर्ण बनावट वाले विमानों के परिचालन के लिए सक्षम है। हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन में पीक ऑवर्स (सबसे अधिक व्यस्त समय) के दौरान 200 प्रस्थान करने वाले और 200 आने वाले यात्रियों को संभालने की क्षमता है।

इस उद्घाटन के बाद उड़ान योजना के तहत हवाई अड्डों की संख्या 61 हो गई है और 381 मार्गों का सफलतापूर्ण परिचालन किया जा रहा है। अब लोग सिंधुदुर्ग से मुंबई के लिए 85 मिनट की फ्लाइट का विकल्प चुनकर आराम से उड़ान भर सकते हैं, जबकि पहले उन्हें इन दोनों शहरों के बीच 10 घंटे से अधिक की सड़क या ट्रेन यात्रा का विकल्प चुनने के लिए मजबूर होना पड़ता था।

उड़ान 3.1 के तहत एयरलाइन मेसर्स एलायंस एयर को सिंधुदुर्ग-मुंबई मार्ग के  लिए अनुमति दी गई है। यह एयरलाइन द्वारा परिचालित 75वां उड़ान मार्ग है। एलायंस एयर अपने 70 सीटों वाले एटीआर 72-600 विमान को रूट पर तैनात करेगी।

इस योजना के तहत बिना सेवा और कम सेवा वाले हवाई अड्डों से परिचालन को प्रोत्साहित करने के लिए चयनित एयरलाइनों को केंद्र, राज्य सरकारों और हवाई अड्डा संचालकों की ओर से व्यवहार्यता अंतर वित्तपोषण (वीजीएफ) के रूप में वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान किया जा रहा है।

अब तक उड़ान योजना के तहत 5 हेलीपोर्ट और 2 वाटर एयरोड्रोम सहित 381 मार्ग और 61 हवाई अड्डों का परिचालन किया जा चुका है।

उड़ान फ्लाइट की समय सारणी का उल्लेख नीचे किया गया है:

क्रम संख्या फ्लाइट संख्या कहां से कहां तक प्रस्थान (घंटा) आगमन

(घंटा)

1 9I-661 मुंबई सिंधुदुर्ग 11:35 13:00
2 9I-662 सिंधुदुर्ग मुंबई 13:25 14:50

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page