कोच्चि रिफाइनरी परिसर में एक बहुत बड़ा अस्थायी कोविड केन्द्र स्थापित

Font Size

नई दिल्ली। केरल के अंबालामुगल में बीपीसीएल के कोच्चि रिफाइनरी द्वारा संचालित स्कूल के परिसर से सटे 100–बिस्तरों वाला का एक अस्थायी कोविड उपचार केन्द्र आज खोला गया। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल), जोकि भारत सरकार के पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तहत एक ‘महारत्न’ सार्वजनिक उपक्रम है, इस केन्द्र को मुफ्त ऑक्सीजन, बिजली और पानी मुहैया करायेगा। ऑक्सीजन की आपूर्ति एक समर्पित स्टेनलेस स्टील पाइपलाइन के जरिए की जायेगी। इस चिकित्सा सुविधा केन्द्र में पहले चरण में 100 बिस्तर होंगे, जिसे बाद में बढ़ाकर 1,500 बिस्तरों तक किया जायेगा।

भारत पेट्रोलियम मुंबई और बीना स्थित रिफाइनरियों में अपनी सुविधाओं में उन्नयन करके सरकारी अस्पतालों और चिकित्सा केन्द्रों को प्रति माह 600 मीट्रिक टन मुफ्त गैसीय ऑक्सीजन की आपूर्ति के जरिए स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को सहयोग करने में सबसे आगे रहा है। इसके अलावा,यह सार्वजनिक उपक्रम अपने कोच्चि स्थित रिफाइनरी से हर महीने 100 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति करता है।

बीपीसीएल महाराष्ट्र में दो सरकारी अस्पतालों, केरल में तीन अस्पतालों और मध्य प्रदेश में पांच अस्पतालों में पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित कर रहा है। इसके अतिरिक्त, रिफाइनरी में बॉटलिंग कंप्रेसर भी लगाया जा रहा है, जो सिलेंडर के जरिए ऑक्सीजन की आपूर्ति में मदद करेगा।

इस अवसर पर बोलते हुए, श्री संजय खन्ना, कार्यकारी निदेशक (कोच्चि रिफाइनरी), बीपीसीएल ने कहा कि “ऐसे कठिन समय में भारत पेट्रोलियम हमेशा समाज तक मदद पहुंचाने में सबसे आगे रहा है। हमारे परिसर में कोविड उपचार केन्द्र की स्थापना और मुफ्त ऑक्सीजन एवं अन्य जनोपयोगी सेवाओं की आपूर्ति राष्ट्र के जीवन को ऊर्जावान बनाने के प्रति हमारी वचनबद्धता के मूल उद्देश्य का एक हिस्सा है। एक अल्प सूचना पर बहुत थोड़े समय में अपनी ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता का उन्नयन करना एक चुनौती थी, लेकिन हम इस पूरी प्रक्रिया को पांच दिनों के भीतर पूरा कर सकने में सफल रहे।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page