हरियाणा में अब तक कोरोना के 14 मामले पॉजिटिव, 114 की रिपोर्ट का इंतजार, विदेश से आये 260 लोगों को गुरुग्राम में रखा गया

Font Size

चंडीगढ़, 23 मार्च। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कोविड-19 को हराने के लिए ‘‘कोविड-संघर्ष सेनानी’’ कार्यक्रम को शुरू किया गया है जिसके तहत लोग पैरा मैडिक्स स्टाफ, डाक्टर, नर्स इत्यादि राष्ट्र सेवकों के साथ-साथ जिला प्रशासन को सहयोग कर सकते हैं और इसके लिए वेबसाइट haryana.mygov.in और covidharyana.in पोर्टल खोलकर पंजीकरण करना होगा ताकि वे इन लोगों के साथ लगकर अपना योगदान दे सकें। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की संबंधित उपायुक्त के माध्यम से टीम बनाई जाएगी जो कोविड-19 को हराने के लिए काम करेगी।

यह जानकारी आज मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यहां पहली बार डिजीटल तरीके से से पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में अब तक 14 मामले पोजिटिव हैं और 132 मामले नेगेटिव हैं तथा 114 मामलों का परिणाम आना बाकी है। इसके अलावा, उन्होंने बताया कि 327 आईसालेशन वार्ड बनाए गए हैं जिसमें 2472 रोगियों को रखा जा सकता है। इसी प्रकार क्वारनटाईन कमरें या डोरमैट्री 1494 बनाए गए हैं जिसमें 6013 लोगों को रखा जा सकता है। उन्होंने बताया कि हाल ही में 260 लोग विदेश से आए हैं जिन्हें गुरूग्राम में रखा गया है। इसी प्रकार, उन्होंने कहा कि अभी वर्तमान में 470 वैटींलेटर हैं और 140 वैंटीलेटर का आदेश दे दिया गया हैं।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पैरा मैडीकल स्टाफ की वर्दी इत्यादि समान सप्लाई कर दिया गया है और यह सब समान आज सायं तक पहुंच जाएगा। उन्होंने बताया कि अब तक जितने भी लोगों को डाटा है उन्हें घर पर ही क्वारनटाईन कर दिया जाता है। इसी प्रकार, उन्होंने कहा कि 50 साल से अधिक आयु के लोग अपने घर पर ही रहें। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे हरियाणा में कम से कम इधर उधर जाएं।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की अपील पर लोगों ने जनता कफर्यू का पूरा समर्थन किया है और लोग जागरूक हैं इसलिए 5 से अधिक लोग एकत्रित न हों। उन्होंने कहा कि किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि ‘‘हरियाणा कोविड रिलिफ फण्ड’’ में 10 मिनट के भीतर 7800 रूपए जमा करा दिए गए थे और मुख्यमंत्री के स्वयं के वटसअप पर जानकारी आई कि एक लाख रूपए की एक किश्त तथा 5 लाख रूपए की एक ओर किश्त आई है। उन्होंने कहा कि लोग उदार मन से योगदान कर रहे हैं।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जिले के हैल्पलाईन नंबर 108 व राज्य के लिए 1800 2000 023 तथा स्वास्थ्य विभाग के लिए 8558893911 को चालू रखा गया है और आने वाले समय में इन हैल्पलाइन को सुदृढ किया जाएगा। इसी प्रकार, गांवों से आने वाले लोगों को केवल आवश्वयक सेवाएं देने के लिए ही आने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से लडने के लिए ऐतिहातन तौर पर लोगों को भरपूर समर्थन मिला है और उन्हें उम्मीद हैं कि हम इस लडाई में जल्द जीत हासिल करेंगें।

इस मौके पर मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोडा, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रघान सचिव वी उमाशंकर, स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोडा, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद, मुख्यमंत्री के प्रधान ओएसडी नीरज दफतूआर भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: