नीतीश केबिनेट ने एक डीसीएलआर को जबरन सेवानिवृत्ति देने और 3 डॉक्टर को बर्खास्त करने का निर्णय लिया

Font Size

पटना। नीतीश कुमार को अध्यक्षता में आज हुई बिहार कैबिनेट की बैठक में कुल 12 निर्णय लिए गए। केबिनेट ने प्रदेश की अलग अलग पंचायतों के खाली पड़े पदों पर उपचुनाव कराने के प्रस्ताव को हरि झंडी दी है. 18 मार्च को इन पदों पर चुनाव कराने का फैसला किया गया है. 

इसके अलावा नीतीश कैबिनेट ने पटना सिटी के मालसलामी में कम्युनिटी हॉल के निर्माण के लिए 88 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत की है जबकि दरभंगा के केवटी प्रखंड में अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय के निर्माण के लिए 56 करोड़ की राशि जारी करने का।निर्णय लिया गया है. प्रदेश सरकार ने स्वतंत्रता सेनानी रामविलास शर्मा की जयंती राजकीय समारोह के साथ आयोजित करने का फैसला किया है.

इसके अलावा सासाराम के तत्कालीन डीसीएलआर ओमप्रकाश को जबरन रिटायरमेंट पर भजने का भी फैसला किया है जो फिलहाल निलंबित हैं

नीतीश कुमार सरकार ने आज की बैठक में 3 डॉक्टरों को बर्खास्त करने के आदेश पर भी मुहर लगा दी है. अररिया के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पैक टोला के चिकित्सा पदाधिकारी अशोक कुमार सिन्हा, पूर्णिया के अमोरहा पनिया स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अनिल कुमार सिन्हा और सहरसा के कपिलधार प्राथमिक चिकित्सा पदाधिकारी डॉ राजकुमार ठाकुर को नौकरी से बर्खास्त करने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी गई है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: