सुप्रीम कोर्ट ने 25 साल से अधिक उम्र के स्टूडेंट्स को एनईईटी एंटरेंस टेस्ट में बैठने की दी इजाज़त

Font Size

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने 2019 की राष्ट्रीय मेडिकल प्रवेश परीक्षा यानी एनईईटी में 25 साल से ऊपर के उम्मीदवारों को भी शामिल होने की इजाज़त दे दी है। हालांकि, कोर्ट ने साफ किया कि दाखिला हो जाने के बावजूद उम्मीदवारों को उम्र सीमा पर कोर्ट का फैसला मानना होगा। बता दें कि एनईईटी 2019 के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख कल यानी 30 नवंबर को खत्म हो रही है। सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को आवेदन की तारीख एक सप्ताह और बढाने का निर्देश दिया है।

दरअसल, मामला ये है कि उम्र सीमा को लेकर मेडिकल काउंसिल के नए नियम के खिलाफ छात्र सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे। सुप्रीम कोर्ट में सीबीएसई के उस फैसले को चुनौती दी गई है जिसमें टेस्ट के लिए परीक्षार्थी की अधिकतम आयु 25 साल तय की गई है।

सुप्रीम कोर्ट के ताजा आदेश का मतलब हुआ कि फिलहाल छात्रों का एंटरेंस टेस्ट में बैठने की इजाजत दी जा रही है, लेकिन ये अंतिम फैसला नहीं है। इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया है कि अगर कोर्ट अपने आखिरी फैसले में उम्र सीमा 25 तय करता है और फैसले में इतनी देरी हो जाती है कि तब तक छात्र दाखिला ले चुके होंगे तो उन्हें कोर्ट का आदेश मानना पड़ेगा और अपना दाखिल खत्म करना होगा। एनईईटी परीक्षा 2019 5 मई 2019 को आयोजित की जाएगी। बता दें कि परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया 1 नवंबर 2018 से शुरू हुई थी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *