हरियाणा में लोकसभा चुनाव के लिए 67 हजार सुरक्षा कर्मी तैनात : डीजीपी

Font Size
 
6 पुलिस महानिरीक्षक, 1 डीआईजी और 12 एसपी स्तर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी रखेंगे चुनाव पर नजर 
 
चंडीगढ़, 10 मई- हरियाणा पुलिस महानिदेशक (डीजीपी)  मनोज यादव ने कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा प्रदेश में 12 मई को होने वाले आम चुनावों को सुचारू रूप से संपन्न करवाने के लिए सुरक्षा के सभी कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। 
  लोकसभा की 10 सीटों के लिए होने वाले चुनाव से दो दिन पहले जारी एक ब्यान में डीजीपी ने आज यहां बताया कि पुलिस शांतिपूर्ण और घटना-मुक्त चुनाव करवाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। हमने चुनावों की सुरक्षा व्यवस्था में कोई कसर नहीं छोड़ी है। मतदान की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए पिछले सप्ताह मैने स्वयं विभिन्न जिलों का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया।
  उन्होने कहा कि चुनाव ड्यूटी के लिए कुल 67,000 पुलिसकर्मी जुटे हैं। सभी रेंज आईजी, पुलिस आयुक्त और जिला एसपी को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने एरिया में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कोई कसर न छोड़ें।
 
  सुरक्षा तैयारियों के बारे बताते हुए डीजीपी ने कहा कि चुनाव के दौरान विशेष सुरक्षा व्यवस्था के तौर पर केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की 95 कंपनियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा, प्रदेश में कड़ी चौकसी और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य पुलिस 33340 कर्मी, 11750 होमगार्ड, 8063 विशेष पुलिस अधिकारी और 5788 पुलिस टे्रनिज़ को चुनाव ड्यूटी पर लगाया गया है। पुलिसबल द्वारा चुनाव से पहले व मतदान के दिन किसी भी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि को नियंत्रित कर कानून व्यवस्था को बनाए रखते हुए अवैध वस्तुओं के इस्तेमाल पर भी पैनी नजर रखी जाएगी। 
 
  इसके अतिरिक्त, कानून-व्यवस्था से संबंधित किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए 6 पुलिस महानिरीक्षक, 1 डीआईजी और 12 एसपी स्तर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को भी विभिन्न जिलों में तैनात किया गया है। चुनाव में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन विशेषकर नकदी, शराब व उपहार आदि के वितरण को रोकने के लिए फ्लाइंग स्क्वॉड और निगरानी टीमों द्वारा चैकिंग तेज कर दी गई है। मतदाताओं के बीच विश्वास पैदा करने के लिए पुलिस बलों द्वारा फ्लैग मार्च भी किया जा रहा है ताकि वे मतदान के दिन भयमुक्त होकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। श्री यादव ने कहा कि मतदान के दिन पुलिस मुख्यालय से भी सुरक्षा व्यवस्था की पूरी निगरानी की जाएगी ।
 
उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान स्थलों की भी निगरानी की जा रही है। ऐसे स्थानों पर सुरक्षा के विशेष प्रावधान किए गए हैं। साथ ही पुलिस द्वारा ऐसे असामाजिक तत्वों पर भी पैनी नजर रखी जा रही है जो चुनावी प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश कर सकते हैं। प्रदेश के लगभग 19425 बूथों में पर्याप्त पुलिस कर्मी ड्यूटी पर तैनात रहेगें। इसके अलावा, पुलिस ने सीमावर्ती राज्यों के साथ नाके भी लगाए हैं ताकि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जा सके।
डीजीपी ने कहा कि चुनावी प्रक्रिया को बाधित करने के किसी भी प्रयास को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और कानून व्यवस्था को बिगाडऩे की कोशिश करने वाले तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने प्रदेश के लोगों से बिना किसी भय के अपना वोट डालने की अपील भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: