बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर पंजाब पुलिस और हरियाणा पुलिस आमने सामने

Font Size

नई दिल्ली : दिल्ली भाजपा के नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर पंजाब पुलिस और हरियाणा पुलिस आमने सामने आ गई है. पंजाब पुलिस भाजपा नेता को दिल्ली स्थित उनके निवास से गिरफ्तार कर पंजाब ले जा रही थी जिसे हरियाणा पुलिस ने रोक लिया है. खबर है कि भाजपा नेता को अब दिल्ली लाया जा रहा है. इसको लेकर पंजाब पुलिस अदालत का दरवाजा खटखटाने वाली है. बहरहाल 2 राज्यों की पुलिस के बीच एक नेता की गिरफ्तारी को लेकर ठनने का यह अजूबा उदाहरण देश को देखने को मिल रहा है।

बताया जाता है कि पंजाब पुलिस ने भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ धारा 452, 365, 342, 392, 295 /34 के तहत मामला दर्द कर गिरफ्तार किया है. दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस ने बग्गा के पिता प्रितपाल की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.  बग्गा के पिता ने अवैध तरीके से घर के अंदर घुसने और जबरन उसे उठा ले जाने तथा मारपीट करने का आरोप लगाया है. उनके पिता ने अपने बयान में यह भी कहा है कि पंजाब पुलिस ने तजिंदर बग्गा को पगड़ी भी नहीं पहन ने दी और उन्हें भी मुंह पर पंच मारा।

इस पूरे मामले को लेकर सवाल उठाया जा रहा है कि पंजाब पुलिस ने बग्गा की गिरफ्तारी के संबंध में दिल्ली पुलिस को पहले सूचित क्यों नहीं किया ? दिल्ली में बग्गा के पिता के बयान पर दर्ज अपहरण के मामले को देखते हुए ही पंजाब ले जा रही पंजाब पुलिस की गाड़ी को हरियाणा के कुरुक्षेत्र में रोक दिया गया। यह अपने तरह का पहला मामला सुनने में आ रहा है।

भाजपा नेता की गिरफ्तारी को लेकर कवि कुमार विश्वास ने पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार की तीव्र आलोचना की है. उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को सत्ता का दुरुपयोग नहीं करने की सलाह दी है।

 

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: