ब्राजील में राजनीतिक हिंसा : पूर्व राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो के समर्थकों ने संसद , राष्ट्रपति भवन और सुप्रीम कोर्ट पर धावा बोला

Font Size

नई दिल्ली :  ब्राजील से राजनीतिक हिंसा की खबर है. पूर्व राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो के समर्थकों ने ब्रासीलिया के नए राष्ट्रपति लुइज इनासियो लूला डी सिल्वा के शपथ लेने के खिलाफ सड़कों पर उतरकर हिसंक प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शनकरी ब्राजील के संसद भवन से लेकर राष्ट्रपति भवन, सुप्रीम कोर्ट के अंदर घुस गए और तोड़फोड़ की. पुलिस ने करीब 400 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया है.

ब्राजील में बने इस हालात पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिंता व्यक्त की है. उन्होंने ट्विटर पर ब्राजील के राष्ट्रपति लूला डा सिल्वा को टैग करते हुए लिखा कि राजधानी ब्राजीलिया में राष्ट्र की संस्थाओं में दंगा, तोड़फोड़, इस हिसंक प्रदर्शन से चिंतित हूं. लोकतांत्रिक परंपराओं का सभी को सम्मान करना चाहिए. पीएम मोदी ने आगे लिखा, हम ब्राजील की सरकार का अपना पूरा समर्थन देते हैं.

बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में वहाँ चुनाव कराया गया था . इस चुनाव में बोल्सोनारो की पार्टी पराजित हो गई थी जबकि लुइज इनासियो लूला डा सिल्वा के नेतृत्व वाली वापमंथी पार्टी की जीत हुई थी. लूला डा सिल्वा ने तीसरी बार राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली. बोल्सोनारो के समर्थकों ने चुनाव के नतीजों को मानने से इनकार कर दिया है और अब प्रदर्शन कर रहे हैं जो हिंसक हो गया है .

%d bloggers like this: