‘जुगलबंदी’ भारतीय शास्त्रीय संगीत और चित्रकला के सम्मिलन से बढ़कर है

Font Size

गोवा :   गोवा में आज 52वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में आयोजित ‘निर्देशक से मिलें’ सत्र में ‘जुगलबंदी’ फिल्म के निर्देशक चेतन भाकुनी ने कहा कि जुगलबंदी भारतीय शास्त्रीय संगीत और चित्रकला के सम्मिलन से बढ़कर है। इस सत्र का आयोजन पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने किया था।

उन्होंने कहा कि भारतीय शास्त्रीय संगीत में जुगलबंदी आम तौर पर एक युगल गान के रूप में अनुवादित होती है। चेतन भाकुनी ने आगे कहा, “एक चित्रकार होने के चलते मैं कला के इन दो रूपों- गायन और चित्रकला के बीच समानता महसूस कर सकता था। एक ख्याल (एक हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत शैली) और एक संबंधित चित्रकला के बीच एक शाश्वत बंधन और अनुरूपता है। मैंने अपनी लघु फिल्म के जरिए इसे दिखाने की कोशिश की है।”

इस फिल्म को भारतीय पैनोरमा गैर-फीचर फिल्म श्रेणी के तहत आईएफएफआई में प्रदर्शित किया गया।

 

जुगलबंदी

(भारतीय पैनोरमा गैर-फीचर फिल्म)

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/9-1AK0S.jpg

 

निर्देशक और निर्माता : चेतन भाकुनी एक चित्रकार हैं जो अपने चित्र, पेंटिंग और वीडियो एनीमेशन में मातृक संबंधों पर जोर देते हैं। उन्होंने ब्यूरेन कॉलेज ऑफ आर्ट से स्टूडियो आर्ट में मास्टर की डिग्री प्राप्त की है।

कलाकार समूह

निर्देशक, निर्माता, पटकथा लेखक: चेतन भाकुनी

सिनेमेटोग्राफर: चेतन भाकुनी

संपादक: चेतन भाकुनी

कलाकार: चेतन भाकुनी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: