चंद्रग्रहण का आंशिक चरण भारत में बुधवार 26 मई को दिखेगा

68 / 100
Font Size

नई दिल्ली : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार चंद्रमा का पूर्ण ग्रहण 26 मई 2021 (5 ज्येष्ठ, 1943 शक संवत) को होगा। चन्द्रग्रहण का आंशिक चरण भारत में चंद्रोदय के तुरंत बाद कुछ समय के लिए भारत के पूर्वोत्तर भागों (सिक्किम को छोड़कर), पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों, ओडिशा तथा अंडमान निकोबार द्वीपसमूह के कुछ तटीय भागों में दिखेगा।

ग्रहण दक्षिण अमेरिका, उत्तरी अमेरिका, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अंटार्कटिका, प्रशांत महासागर और हिंद महासागर को कवर करने वाले क्षेत्र में दिखाई देगा। ग्रहण का आंशिक चरण भारतीय समय के अनुसार 15 बजकर 15 मिनट पर प्रारंभ होगा। कुल चरण भारतीय समय के अनुसार 16 बजकर 39 मिनट पर प्रारंभ होगा। कुल चरण भारतीय समय के अनुसार 16 बजकर 58 मिनट पर समाप्त होगा। आंशिक चरण 18 बजकर 23 मिनट पर समाप्त होगा।

अगला चंद्रग्रहण भारत में 19 नवंबर 2021 को दिखेगा। यह आंशिक चंद्रग्रहण होगा। आंशिक चंद्रग्रहण की समाप्ति को चंद्रोदय के कुछ समय बाद कुछ समय के लिए ही अरुणाचल प्रदेश और असम के चरम पूर्वोत्तर भागों में देखा जा सकेगा।

चंद्रग्रहण पूर्णिमा के दिन होता है जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है और जब तीनों – सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा- एक सीध में आ जाते हैं। पूर्ण चंद्रग्रहण तब होता है जब पूरा चंद्रमा पृथ्वी की छाया में आता है और आंशिक चंद्रग्रहण तब होता है जब चंद्रमा का केवल एक भाग पृथ्वी की छाया में आता है।

26 मई को भारत के कुछ स्थानों से दिखाई देने वाले ग्रहण के आंशिक चरण की अवधि :

समयचंद्रोदय समय (आईएसटी)चंद्रोदय के बाद दिखाई देने वाले आंशिक चरण की समाप्ति की अवधि
 बजे  मिनटमिनटों में
अगरतला18 0617
आयजोल17 5924
कोलकाता18 1508
चेरापूंजी18 0617
कूच बिहार18 1805
डायमंड हार्रबर18 1508
दीघा18 1607
गुवाहाटी18 0914
इंफाल17 5627
ईटानगर18 0221
कोहिमा17 5726
लुमडिंग18 0122
मालदा18 2102
उत्तर लखीमपुर18 0023
पारादीप18 1805
पासीघाट17 5726
पोर्ट ब्लेयर17 3845
पुरी18 2102
शिलांग18 0617
सिबसागर17 5825
सिलचर18 0122

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page