युवाओं में प्रतिभा की कमी नहीं, बल्कि उन्हें निखारने की आवश्यकता है : मोहित मदनलाल ग्रोवर

Font Size

गुरुग्राम। सुरुचि साहित्य कला परिवार समिति द्वारा महरौली रोड स्थित जीआईए हाऊस में 73वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में रविवार को देशभक्ति समूह गान, भाषण व स्लोगन लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में युवा समाजसेवी मोहित मदनलाल ग्रोवर शामिल हुए। संस्था के पदाधिकारियों द्वारा मोहित मदनलाल ग्रोवर का फूलमालाओं व स्मृति चिन्ह भेंट कर जबरदस्त स्वागत किया गया।

मोहित मदनलाल ग्रोवर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि समाज में युवाओं में प्रतिभा की कमी नहीं है, उन्हें केवल बेहतर मंच उपलब्ध कराने की आवश्यकता है। युवा ही देश का भविष्य होते हैं। युवा बेहतर शिक्षा के माध्यम से समाज व देश को उन्नति के शिखर तक ले जाते हैं। इस प्रकार के आयोजन से युवाओं के अंदर छिपी हुई प्रतिभाएं निखरती है। प्रदेश के युवाओं ने देश व विदेशों में हरियाणा का नाम रोशन किया है।

अभिभावकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाएं। एक मजबूत व सशक्त समाज के निर्माण में युवाओं का अहम योगदान होता है। श्री ग्रोवर ने कहा कि देश को आजाद कराने वाले महापुरुषों व क्रांतिकारियों से संबंधित साहित्य का युवा अध्ययन करें, ताकि युवाओं में भी देशभक्ति की भावना का संचार किया जा सके। प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों में ज्ञान का विस्तार होता है और देश से संबंधित साहित्य को जानने का अवसर मिलता है।

श्री ग्रोवर ने प्रतिभागियों द्वारा दी गई प्रस्तुतियों की सराहना करते हुए विजेताओं को पुरुस्कृत भी किया। इस अवसर पर जीआईए के अध्यक्ष जगन्नाथ मंगला, डा. धनीराम अग्रवाल, कवि मदन साहनी, शिक्षाविद् डा. अशोक दिवाकर, कर्नल कुंवर प्रताप सिंह, डा. सुमन गुलाटी, केएस मलिक, त्रिलोक शर्मा, शरद गोयल, सतपाल सिंह चौहान, सतीश सिंगला, एनपी सिंह, मंजू भारती, आरएस पसरीचा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: