कमल हासन के ‘हिंदू आतंकवादी’ वाले बयान पर तमिलनाडु के मंत्री बोले, ‘काट दो जुबान’

Font Size

चेन्नई। मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी ”हिंदू” था। वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे।

उनके इस बयान से राजनीतिक गलियारों में भी हलचल पैदा हो गई है। इसी क्रम में तमिलनाडु के मंत्री केटी राजेंद्र बालाजी ने सोमवार को कहा कि कमल हासन ने यह बयान अल्पसंख्यकों के वोट पाने के लिए दिया है। बालाजी इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि हासन के इस बयान के लिए उनके जुबान काट लेनी चाहिए।

केटी राजेंद्र बालाजी ने कहा कि हिंदू आतंकवाद को लेकर की गई टिप्पणी के लिए कमल हासन की जुबान काट लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम एक व्यक्ति के क्रियाकलाप से पूरे समाज को दोषी नहीं ठहरा सकते हैं। उन्होंने कहा कि कमल हासन ने यह टिप्पणी अल्पसंख्यकों का वोट पाने के लिए की है। चुनाव आयोग को अभिनेता के ऊपर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए और उनकी पार्टी पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: