भाजपा को हराने के लिए मायावती और मुलायम एक साथ आयें : लालू

Font Size

पटना: आरजेडी नेता लालू प्रसाद ने आने वाले चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को हराने करने के लिए मायावती और मुलायम सिंह यादव समेत सभी धर्मनिरपेक्ष ताकतों से एक मंच पर आने का आह्वान किया. रविवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक के बाद लालू ने पत्रकारों वार्ता में कहा कि भाजपा को हराने के लिए मायावती और मुलायम सिंह यादव समेत सभी धर्मनिरपेक्ष पार्टियों को एकसाथ आना चाहिए. अगर ऐसा होता है तो भाजपा धाराशाई हो जाएगी. लालू ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार आरक्षण को खत्म करना चाहती है.

 

लालू यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सामाजिक न्याय के वोट के बंटवारा होने के कारण ही भाजपा की जीत हुई है जबकि  पंजाब व बिहार में वोट का बंटवारा नहीं होने के कारण उसे हार का सामना करना पड़ा. उन्होंने आगाह किया कि सभी कथित धर्मनिरपेक्ष दलों को एक होना होगा और इसके लिए वो फिर कोशिश करेंगे. जब उनसे यह पूछा गया कि क्या नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सभी दलों को अपना नेता मानना चाहिए, उस पर श्री यादव ने कहा कि जब सब लोग इकट्ठे होंगे तब ये तय होगा .  फिलहाल यह बोल-बोलकर नीतीश कुमार का अपमान किया जा रहा है.

 

उन्होंने कहा कि जातियों की जनसंख्या के अनुरूप बजट निर्धारण के अलावा जातिगत जनगणना को सार्वजनिक करने की मांग को लेकर सरकार पर दबाव डालने के लिए राजद एक आंदोलन छेड़ेगी. उन्होंने कहा कि पार्टी ने बोधगया में दो, तीन और चार मई को तीन दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला के आयोजन का निर्णय किया है,.  इस कार्यशाला में पार्टी कार्यकर्ताओं को भाजपा की राजनीति के बारे में अवगत कराया जाएगा.

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: