G20 India : जी20 शेरपा ने दी जी20 डेवलपमेंट वर्किंग ग्रुप की बैठक जानकारी

Font Size

मुम्बई :  जी20 शेरपा अमिताभ कांत ने आज 13- 6 दिसंबर 2022 को मुंबई में आयोजित डेवलपमेंट वर्किंग ग्रुप (डीडब्ल्यूजी) की पहली बैठक के संबंध में मीडियाकर्मियों को संबोधित किया और जी20 के डीडब्ल्यूजी से संबंधित भारत की प्राथमिकताओं और दृष्टिकोण के बारे में जानकारी दी। डीडब्ल्यूजी 2010 से, जी20 के विकास एजेंडा के संरक्षक के रूप में कार्य कर रहा है।

सतत विकास के लिए 2030 एजेंडा और 2015 में इसके लक्ष्यों को अपनाने के बाद, डीडब्ल्यूजी ने सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) के साथ जी20 के विकास एजेंडे के समन्वय को आगे बढ़ाया है। अपने कार्य की प्रकृति को ध्यान में रखते हुए, डीडब्ल्यूजी ने प्रेसीडेंसी की प्राथमिकताओं के आधार पर पिछले दशक में अनेक समस्याओं को सुलझाने का प्रयास किया है।

श्री कांत ने इस बात पर जोर दिया कि आज दुनिया जिन चुनौतियों का सामना कर रही है, उन्हें मिलकर काम करके ही हल किया जा सकता है। हमारी प्राथमिकताएं न केवल जी20 सदस्यों की आकांक्षाओं के साथ- साथ विश्व के दक्षिणी देशों की आकांक्षाओं को भी दर्शाती हैं। भारत एक समावेशी, महत्वाकांक्षी, निर्णायक और कार्रवाई उन्मुख दृष्टिकोण अपना रहा है। श्री कांत ने डीडब्ल्यूजी को लेकर भारत की प्राथमिकताओं – (i) जलवायु के अनुकूल कार्रवाई और वित्तपोषण सहित हरित विकास, सिर्फ ऊर्जा संक्रमण और एलआईएफई (पर्यावरण के लिए जीवन शैली); (ii) सतत विकास लक्ष्य के कार्यान्वयन में तेजी लाना; और (iii) डिजिटल पब्लिक गुड्स/डेटा फॉर डेवलपमेंट से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि डीडब्ल्यूजी के विचार-विमर्श में ऋण संकट, बहुपक्षवाद में सुधार और महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास को भी शामिल किया जाएगा और भारत इसे प्राप्त करने के लिए समावेशी विकास और सामूहिक कार्रवाई के महत्व पर जोर देगा।

श्री कांत ने याद दिलाया कि सामूहिक कार्य, बहु-विषयक अनुसंधान और आपदा जोखिम में कमी पर सर्वोत्तम तौर-तरीकों के आदान- प्रदान को प्रोत्साहित करने के लिए भारत की अध्यक्षता में आपदा जोखिम न्यूनीकरण पर एक नई कार्यप्रणाली स्थापित की गई है। इसके अलावा, भारत के जी20 प्रेसीडेंसी के तहत एक नया स्टार्टअप 20 एंगेजमेंट ग्रुप भी शुरू किया गया है, जो ड्राइविंग इनोवेशन में स्टार्टअप्स की भूमिका को चिन्हित करता है और तेजी से बदलते वैश्विक परिदृश्य के अनुकूल समाधान प्रस्तुत करता है।

तीन-दिवसीय बैठक सतत विकास लक्ष्य पर प्रगति में तेजी लाने के लिए जी20 सामूहिक कार्रवाइयों पर ध्यान केंद्रित करेगी, खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा और ऋण संकट से संबंधित तत्काल चिंताओं से निपटने में विकासशील देशों को समर्थन और सतत विकास लक्ष्य पर 2023 जी20 नई दिल्ली अपडेट पर ध्यान केंद्रित करेगी।  राज्य सरकार की मदद से जी20 प्रतिनिधियों के लिए महाराष्ट्र की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को दर्शाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा, आगंतुक प्रतिनिधियों के लिए मुंबई में कन्हेरी गुफाओं के भ्रमण की भी योजना बनाई गई है।

%d bloggers like this: