साईबर पुलिस ने ठगी के शिकार लोगों के 71.90 लाख रुपए बचाए : डी.सी.पी. दक्षिण गुरुग्राम

Font Size

-1930 पर साईबर फ्राँड की शिकायत करेंगे तो फ्रिज होगी ट्रान्जैक्शन

गुरुग्राम :  साईबर पुलिस गुरुग्राम ने अक्टूबर माह में ठगों द्वारा ठगे गए लोगों के 71.90 लाख रुपए ब्लॉक करवाए हैं। पुलिस उपायुक्त उपासना सिंह ने बताया है कि साइबर ठगी के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। पुलिस की ओर से अक्तूबर को साइबर जागरूकता माह रूप में मनाया गया . इस दौरान साइबर अपराध से जुड़ी घटनाओं को लेकर नागरिकों को भी सतर्क किया गया । उन्होंने कहा कि स्वयं को साइबर अपराध के प्रति जागरूक कर नागरिक साइबर ठगों से बच सकते हैं।

ऑनलाइन ठगी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। एप और बैंकिंग सिस्टम में सेंधमारी कर साइबर अपराधी नागरिकों के साथ धोखाधड़ी कर रहे हैं। इस तरह नागरिकों को ठगी से बचाने के लिए भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने पोर्टल तैयार किया है. इसका एक हैल्प लाइन नंबर 1930 भी जारी किया गया है। इस पर नागरिक साइबर क्राइम से संबंधित अपनी शिकायत दे सकते हैं ।

ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ व्यक्ति हैल्पलाइन नंबर पर शिकायत देता है. फ्रॉड की जानकारी के आधार पर जिस अकाउंट में पैसा पहुंचा होता है , साइबर क्राइम डैस्क द्वारा उस अकाऊंट को फ्रीज कर दिया जाता है। जिस अकाउंट में पैसा जाता है , उसका मालिक उसे नहीं निकाल पाता है । साथ ही ठगी के शिकार हुए लोगों के अकाउंट से निकले गए पूरे रुपए खाते में वापस आ जाते हैं।

अक्तूबर माह में प्रत्येक दिन साईबर पुलिस जिला गुरुग्राम द्वारा लोगों को जागरुक किया गया। इस कड़ी में रोज स्कूल, काँलेज, विश्वविद्यालय, माल, बस स्टैण्ड, ग्राम पंचायत व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर साइबर क्राइम के बारे भी अवेयर किया गया।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: