राज्यसभा में हंगामा करने वाले 19 सदस्य अगले एक सप्ताह के लिए निलंबित

Font Size

नई दिल्ली :  राज्यसभा के 19 सदस्यों को मंगलवार को अगले एक सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया गया .  निलंबित होने वालों में मौसम नूर, एल. यादव, वी. शिवादासन, अबीर रंजन बिस्वास, सुष्मिता देव, शांता छेत्री, मोहम्मद अब्दुल्लाह, एए रहीम, कनिमोझी, डॉ. शांतनु सेन, नदीम उल हक और डोला सेन शामिल हैं. राज्यसभा सांसदों को सदन के वेल में प्रवेश कर नारेबाजी करने  और सदन बाधित करने के लिए निलंबित किया गया है. इस प्रकार का निर्णय सोमवार को लोक सभा में लिया गया था जिसमें कांग्रेस पार्टी के 4 सदस्यों को सदन की की आगे की कार्यवाही के लिए निलंबित कर दिया गया है .

निलंबित किए गए अन्य सांसद आर वद्दीराजू, एस कल्याणासुंदरम, आर गिररंजन, एनआर इलांगो, एम शणमुगम, दामोदर राव दिवाकोंडा और पी संदोष कुमार हैं. इससे पहले राज्यसभा में विपक्ष द्वारा हंगामा किया गया. जिस पर उपसभापति ने सख्ती दिखाते हुए कहा कि मैं सदन के वेल में खड़े होकर नारे लगाने और ताली बजाने वाले सदस्यों से कहना चाहता हूं कि यह नियमों के खिलाफ है.

उल्लेखनीय है कि राज्यसभा में आज प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष द्वारा “रोलबैक जीएसटी” के नारे लगाए गए. उपसभापति ने हंगामा कर रहे सांसदों से अपनी सीटों पर वापस जाने को कहा . उन्होंने यह कहते हुए नसीहत दी कि पूरा देश देख रहा है कि आप सदन को चलने नहीं दे रहे.

दूसरी तरफ सांसदों के निलंबन पर टीएमसी के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि मोदी और शाह ने लोकतंत्र को निलंबित कर दिया है. आप सांसदों के बारे में क्या बात कर रहे हैं ?

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: