स्वास्थ्य विभाग गुरुग्राम को भेंट मिले 24 कार्डियक मॉनिटर

13 / 100
Font Size

एमएमटीसी-पीएएमपी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने स्विस इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स और कोविड एक्शन कोलाब के सहयोग से उपलब्ध करवाए कार्डियक मॉनिटर

गुरुग्राम,03 अगस्त। कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए तैयारी में जुटे जिला प्रशासन को जिला की विभिन्न संस्थाओ द्वारा निरंतर सहयोग मिल रहा है। इसी कड़ी में एमएमटीसी -पीएएमपी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने स्विस इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स और कोविड एक्शन कोलाब के सहयोग से सिविल सर्जन डॉ वीरेंद्र यादव व उनकी टीम को 24 कार्डियक मॉनिटर भेंट किए हैं।

इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ वीरेंद्र यादव ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जिला में कुल मिलाकर लगभग 89 सरकारी स्वास्थ्य सुविधाएं हैं जिनमें 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 04 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 05 सिविल अस्पताल और 01 सरकारी मेडिकल कॉलेज और 68 उप स्वास्थ्य केंद्र शामिल हैं। उपरोक्त सभी केंद्रों पर कोरोना वायरस को जड़ से खत्म करने के लिए व्यापक स्तर पर कार्य किया जा रहा है।जिला में जहां टेस्टिंग अभियान पर खासा जोर दिया जा रहा है वही स्वास्थ्य केंद्रों के साथ साथ जिला के दूरदराज क्षेत्रों में टीकाकरण शिविर का आयोजन भी किया जा रहा है।

डॉ यादव ने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा जताई जा रही तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग की तैयारियां पूरी है। जिला प्रसाशन द्वारा अपने स्तर पर की जा रही इन तैयारियों में जिला की विभिन्न संस्थाओं द्वारा निरंतर सहयोग मिल रहा है। इसी कड़ी में एमएमटीसी-पीएएमपी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने स्विस इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स और कोविड एक्शन कोलाब के सहयोग से सोहना क्षेत्र में स्थित स्वास्थ्य केंद्रों के लिए 24 कार्डियक मॉनिटर उपलब्ध कराए गए हैं। उपरोक्त कंपनी द्वारा की गई यह भेंट जिला की अन्य संस्थाओं को भी प्रेरणा देने का कार्य करेगी।

उप सिविल सर्जन डॉ ईशा नारंग ने कहा कि उपरोक्त संस्था द्वारा भेंट किए गए बीपीएल मल्टीपारा मॉनिटर-ईवी8 नामक यह 24 कार्डियक मॉनीटर्स स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने की प्रक्रिया में काफी सहायक सिद्ध होंगे।

 

कार्यक्रम में मौजूद स्वस्ति हेल्थ कैटालिस्ट की सीईओ, शमा करकल ने कहा कि कोविड -19 की दूसरी लहर मानव जाति के लिए काफी चुनोतियाँ लेकर आई थी। इस लहर ने हमे बखूबी समझा दिया है कि हमे अपने स्वास्थ्य क्षेत्र के संसाधनों में बढ़ोतरी करने की आवश्यकता है। इस उद्देश्य को ध्यान में रख व तीसरी लहर की संभावनाओं के मद्देनजर हमारी संस्था ने एमएमटीसी-पीएएमपी और स्विस-इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के सहयोग से यह उपकरण भेंट किए है।

इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम सहित एमएमटीसी-पीएएमपी और स्विस-इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्य भी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page