हथियार तस्करों का तीसरा साथी भी पकड़ा गया, हथियार भी बरामद

Font Size

गुरुग्राम्। अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अवैध हथियार तस्करी करने के मामले में पुलिस मुठभेड़ के बाद काबू किए गए 02 हथियार तस्करों के तीसरे साथी आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम द्वारा काबू किए गए दोनों हथियार तस्करों से आरोपी ने 50 हजार रुपये में हथियार खरीदे थे । आरोपी के कब्जा से 01 पिस्तौल, 02 रिवॉल्वर व 09 जिन्दा कारतूस पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए ।

पुलिस के अनुसार आरोपी के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, बलात्कार, लड़ाई-झगड़े व अवैध हथियार रखने आदि अपराधों के आधा दर्जन के करीब अभियोग अंकित हैं। आरोपी बलात्कार के मामले में 9 साल की सजा काट चुका है ।

मामले की खास बातें :

▪ कल दिनाँक 23.09.2020 को उप-निरीक्षक अमित कुमार, प्रभारी अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम को अपने गुप्त सूत्रों के माध्यम से एक सूचना अवैध हथियार बेचने वाले 02 आरोपियों के बारे में सूचना प्राप्त हुई थी।

▪ इस सूचना पर उप-निरीक्षक अमित कुमार, प्रभारी अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम ने तुरंत प्रभाव से कानूनी औपचारिकताओं को पूरा करते हुए एक पुलिस रेडिंग टीम तैयार की और रेडिंग पुलिस टीम को सूचना के बारे में पूर्ण रूप से अवगत करवाकर सूचना में बताए गए स्थान गांव सहरावन से NH-8 वाले कच्चे रास्ते पर पहुँचे।

▪ पुलिस टीम को सूचना में बताए गए 02 युवक एक कार में उक्त स्थान पर दिखाई दिए। दोनों युवक अचानक से पुलिस टीम को सामने देखा तो उन्होंने पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से 02 गोलियां चलाई, तभी पुलिस टीम ने बड़ी ही निडरता व अदम्य साहस के साथ जवाबी कार्यवाही करते हुए पुलिस टीम ने दोनों युवकों की चारों और से घेराबंदी कर ली और निम्नलिखित दोनों युवकों को काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की थी:-

1. कुलदीप उर्फ कुल्लू पुत्र स्व० धर्मपाल सिंह निवासी गाँव सह, जिला भिवानी, उम्र 32 वर्ष, शिक्षा 10वीं।

2. सचिन उर्फ कालू पुत्र सुखपाल सिंह निवासी गाँव रेसली थाना खेर जिला अलीगढ़, उत्तर-प्रदेश, उम्र 22 वर्ष, शिक्षा 12वीं।

▪ आरोपियों उक्त को पुलिस टीम द्वारा काबू करने उपरांत उनकी व कार की तलाशी ली तो आरोपियों के कब्जा से कुल 11 देशी पिस्तौल, 07 जिन्दा कारतूस व 01 टोयोटा कार बरामद किए थे।

▪ आरोपियों के कब्जा से अवैध हथियार बरामद किए जाने व आरोपियों द्वारा पुलिस टीम पर जानलेवा हमला करने पर आरोपियों के खिलाफ थाना मानेसर, गुरुग्राम में कानून व संबंधित अधिनियमों की संबंधित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया था व दोनों आरोपियों को अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया था।

▪ आरोपियों से प्रारंभिक पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ था कि ये अवैध हथियार बेचने का धंधा करते है और आज ये भिवाड़ी राजस्थान से हथियार लेकर आ रहे थे तभी पुलिस ने मुठभेड़ के बाद इन्हें काबू कर लिया। उपरोक्त आरोपी सचिन, उक्त आरोपी कुलदीप के मामा के साले का लड़का है।

▪ आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में उक्त आरोपी कुलदीप द्वारा निम्नलिखित अभियोगों में भी वारदातों को अन्जाम देने का खुलासा किया था:-

1. अभियोग संख्या 282 दिनांक 05.08.2018 धारा 147, 148, 353, 506 भा.द.स. थाना राजेन्द्रा पार्क, गुरुग्राम।
2. अभियोग संख्या 374/2017 धारा 379ए भा.द.स. थाना राजेन्द्रा पार्क, गुरुग्राम।

3. अभियोग संख्या 353/2002 धारा 323, 324, 34 भा.द.स. थाना सदर, भिवानी।

4. अभियोग संख्या 144/2013 धारा 399, 402 भा.द.स. थाना लुहारु, भिवानी।

5. अभियोग संख्या 294/2013 धारा 395, 397, 367 भा.द.स. थाना शहर, नारनौल।

6. अभियोग संख्या 300 दिनांक 19.07.2020 धारा शस्त्र अधिनियम, थाना पालम विहार, गुरुग्राम।

▪ आरोपियों को दिनाँक 24.09.2020 को अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया था।

▪️पुलिस हिरासत रिमांड के दौरान आरोपियों से हथियारों की सप्लाई करने व अन्य साथी आरोपियों तथा अन्य वारदातों के बारे में गहनता से पूछताछ के उपरान्त आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।

—–Follow-Up—–
–08.10.2020👇🏻–

👁️‍🗨️ उपरोक्त अभियोग में उप-निरीक्षक अमित कुमार, प्रभारी अपराध शाखा मानेसर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने आगामी कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सूत्रों की सहायता से अपनी समझबूझ व पुलिस प्रणाली का प्रयोग करते हुए उपरोक्त अभियोग में उपरोक्त आरोपियों द्वारा गुरुग्राम में अपने जिस साथी आरोपी को हथियार बेचे थे उसे कल दिनाँक 07.10.2020 को गाँव बहरामपुरा, गुरुग्राम से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान सुरजीत यादव उर्फ भोलू पुत्र इंद्रजीत सिंह निवासी गांव बहरामपुर, थाना बादशाहपुर, गुरुग्राम के रूप में हुई।

👁️‍🗨️ आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

👁️‍🗨️ आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बतलाया कि यह लकड़ी का काम करता है औए इसे हथियार रखने का शौक है। इसने अपने उपरोक्त साथियों को 50 हजार रुपए देकर उनसे हथियार खरीदे थे।

👁️‍🗨️ पुलिस टीम ने उक्त आरोपी सुरजीत के कब्जा से 01 पिस्तौल, 02 रिवॉल्वर व 08 जिन्दा कारतूस बरामद किए है।

👁️‍🗨️ आरोपी के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, बलात्कार व लड़ाई-झगड़े के आधा दर्जन के करीब मामले अंकित है। यह बलात्कार के मामले में जयपुर जेल में 09 साल की सजा काट चुका है।

👁️‍🗨️ आरोपी को अदालत के सम्मुख पेश कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: