नौकरी की लालच में साथियों के साथ मिलकर स्कूल प्रहरी की हत्या की, पुलिस ने सुलझाई गुत्थी, 5 गिराफ्तार

Font Size

मोटरसाइकिल गैरेज में फर्श पर मिला खून का छींटा

बाथरूम से खून से लथपथ कपड़ा, चाकू ,दो राँड ,शव ठिकाने लगाने वाली टेंपो बरामद

पुलिस ने किया गैरेज को सील ,पांच लोगों को गिरफ्तार

26 अगस्त से गुम थे रामनारायण बैठा ,पत्नी ने कराई गुमशुदगी की प्राथमिकी दर्ज

26 को ही हत्यारों ने हत्या कर शव को लगाया था ठिकाने

एफएलसी की टीम ले गई ब्लड सैंपल का नमूना

नीरज कुमार सिंह 

मोतोहरी। मोतिहारी जिले की पताही पुलिस ने महज 12 घंटों में ही हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। इधर परिजन थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराने में लगे थे। हत्यारों ने दिन के उजाले में ही 12 बजे के करीब हत्या को अंजाम दिया। मोटरसाइकिल के गैरेज में अपराधी हत्या की वारदात को अंजाम देते रहे लेकिन आसपास किसी को इसकी भनक भी नहीं लगी।

बताया जाता है कि हत्यारों ने नौकरी की लालच में मोटरसाइकिल की शौकर रॉड और चाकू से गोदकर हत्या कर दी। शव छुपाने की नीयत से शव को बोरी में कसकर टैंपू से ले जाकर रुपैलिया पोखर के नजदीक स्टेट ट्यूबवेल की टंकी में रख दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शक के आधार पर हत्यारे के घर के बाथरूम में बने शौचालय की टंकी से खून से लथपथ रामनारायण बैठा के कपड़े और चाकू जो अपराधियों ने हत्या करने के लिए 2 दिन पूर्व ढाका से खरीदी थी को बरामद किया।

पुलिस ने अपराधियों के कबूल नामें बयान पर मोटरसाइकिल गैरेज में सर्च किया। वहां से भी मोटरसाइकिल में लगने वाली सॉकर की दो फाइट जिससे हत्या के दौरान रामनारायण बैठा के सर पर वार किया गया था बरामद किया। मोटरसाइकिल गैरेज की दीवार में खून के छींटे के निशान पाए जिसको लेकर मोटरसाइकिल गैरेज को सील कर दिया है।

पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बताया कि रामनारायण बैठा, पताही कन्या प्रोजेक्ट उच्च माध्यमिक विद्यालय में रात्रि प्रहरी के रूप में कार्यरत था। वह विद्यालय से 26 अगस्त को, एकाएक गायब हो गया। इसको लेकर मृतक की पत्नी मीना देवी ने गुमशुदगी का मामला थाने में दर्ज कराया था। पुलिस मामले की जांच कर रही थी। इसी बीच सूचना मिली कि रुपैलिया पोखर के पास स्टेट ट्यूबवेल में टंकी में बोरे में छुपाकर किसी का शव रखा है। इस पर जांच पड़ताल की गई ।परिजनों से पहचान कराया गया। परिजनों ने शव की पहचान कर ली । पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए शक के आधार पर मोटरसाइकिल गैरेज मालिक राजेंद्र मंडल एवं उसके पुत्र अवनीश मंडल, अभिमन्यु मंडल, रंजीत पासवान एक 13 वर्षीय किशोर को गिरफ्तार किया। उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों से पूछताछ की गयी।

गिरफ्तारी के बाद परत दर परत मामले खुलते गए। वही पूछताछ के दौरान हत्यारा अवनीश मंडल ने बताया कि 26 अगस्त को 12 बजे के करीब अपने मोटरसाइकिल गैरेज में हत्या को अंजाम दिया था। शव को बोरे में रखकर साक्ष्य को छुपाने की नीयत से शाम 4 बजे के करीब हत्या में शामिल टेंपो चालक के सहयोग से टैंपू में रखकर स्टेट ट्यूबल टेबल के गटर में छुपाया था। हत्या में प्रयुक्त मोटरसाइकिल की दो सौकर की पाइप, चाकू, जले हुए कपड़े बरामद किये गए है ।

घटनास्थल से मोटरसाइकिल गैरेज के बाथरूम से खून से लथपथ कपड़े भी पुलिस ने बरामद किये है। मोटरसाइकिल गैरेज में जहां हत्या की गई थी कई जगहों पर खून के छींटे पड़े हुए हैं । फॉरेंसिक जांच की टीम मुजफ्फरपुर से बुलाई गई है जिसकी जांच कराई जाएगी।

थानाध्यक्ष विकास तिवारी ने बताया कि मृतक की पत्नी मीना देवी ने ही गजेंद्र मंडल एवं उसके पुत्र पर हत्या कर शव को छुपाने का शक जाहिर किया था। इज़के बाद पुलिस ने अवनीश मंडल जिससे नौकरी की लालच में हत्या करने की बात सामने आने के आधार पर पूछताछ की जा रही है। पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश कुमार पांडे ने बताया कि थाना अध्यक्ष विकास तिवारी गंगा दयाल ओझा, दरोगा बिरसा उरांव, जलेसर भगत, सुनील सिंह, द्वारा मामले का त्वरित उद्भेदन करने के लिए सभी को पुरस्कृत करने की अनुशंसा की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: