छात्रा के आरोप के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर मामला दर्ज

Font Size

शाहजहांपुर । काननू में परास्नातक की पढ़ाई कर रही एक छात्रा द्वारा वीडियो क्लिप के जरिये ‘संत समाज के एक बड़े नेता’ पर उत्पीड़न के आरोप लगाये जाने और उसके लापता हो जाने के बाद मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ मंगलवार को प्राथमिकी दर्ज की गयी है।छात्रा के पिता ने पुलिस को दी गयी तहरीर में भाजपा के इस बड़े नेता पर पुत्री का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है, वहीं चिन्मयानंद के वकील ने इस आरोप को खारिज करते हुए दावा किया कि यह उन्हें ब्लैकमेल करने की साजिश है। सोशल मीडिया पर24 अगस्त को वायरल वीडियो में छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद का नाम लिये बिना कहा कि मैं शाहजहांपुर के एसएस लॉ कालेज से एलएलएम कर रही हूं।संत समाज का एक बहुत बड़ा नेता है जो बहुत लड़कियों की जिंदगी बरबाद कर चुका है, और मुझे भी मारने की धमकी देता है। मेरा (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी जी और (मुख्यमंत्री) योगी जी से अनुरोध है कि वह कृपया मेरी मदद करें। उसने मेरे परिवार को मारने की धमकी दी है,मुझे पता है कि मैं इस समय कैसे रह रही हूं।’’
वह रोते हुए वीडियो में यह कहते सुनी जा सकती है, ‘‘मोदी जी कृपया मेरी मदद कीजिए। वह संन्यासी, पुलिस और डीएम सबको अपनी जेब में रखता है, इस बात की धमकी देता है कि कोई मेरा कुछ नही कर सकता है। लेकिन मेरे पास उसके खिलाफ सारे सबूत हैं। मेरी प्रार्थना है कि आप लोग मुझे इंसाफ दिलायें। छात्रा का वीडियो वायरल होने के बाद मंगलवार रात पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री पर मामला दर्ज कर लिया गया है वहीं पीड़िता के पिता को सुरक्षा उपलब्ध करा दी गई है।लड़की के पिता ने आरोप लगाया था कि स्वामी चिन्मयानंद ने उनकी पुत्री को गायब किया है। पुलिस अधीक्षक डॉ. यश चनप्पा ने मंगलवार शाम संवाददाताओं को बताया कि शहर के स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में एल एल एम कर रही छात्रा ने सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करके कहा था कि एक संन्यासी ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है और वह हमें तथा हमारे परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहा है ।उन्होंने बताया कि पीड़िता के पिता की तहरीर पर पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 364 (हत्या करने के लिए अपहरण करना) और धारा 506 (धमकाना) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है वहीं पीड़िता के पिता को सुरक्षा भी उपलब्ध करा दी गई है। चनप्पा ने कहा कि गायब हुई एल एल एम की छात्रा की सकुशल बरामदगी के लिए टीमें लगा दी गई हैं और उसे शीघ्र ही बरामद कर लिया जाएगाl हालांकि चिन्मयानंद के वकील ओम सिंह ने लड़की और उसके पिता द्वारा लगाये गये सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुये कहा कि उनके दावों में रत्ती भर भी सच्चाई नही हैं।

चिन्मयानंद के वकील ने मंगलवार को फोन पर कहा 22 अगस्त को चिन्मयानंद को एक अनजान नंबर से व्हाटसअप संदेश आया। संदेश में कहा गया कि आज शाम तक पांच करोड़ रूपये दीजिये। अगर आपने पैसे नही दिये तो मेरे पास आप का वीडियो है जिसे मैं टीवी और न्यूज चैनल पर वायरल कर दूंगा। और कोई चालाकी करने की कोशिश मत करना क्योंकि मेरा कुछ नही होगा, आपकी बदनामी हो जायेगी। इसलिये चुपचाप पांच करोड़ की व्यवस्था कर दीजिये। सिंह ने बताया कि स्वामी जी शहर में नही थे और उन्होंने स्क्रीनशॉट मुझे भेजा, मैंनेशाहजहांपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को भेज दिया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस ने जांच की कार्रवाई शुरू की। मैंने कहा कि इस बारे में मीडिया को बता देना चाहिए लेकिन पुलिस ने कहा कि ऐसा न करें क्योंकि यह बड़ा मामला है और बड़ा गिरोह इसमें शामिल हो सकता है। अगर आप मीडिया में दे देंगे तो हो सकता है कि वे सर्तक हो जायें और हमें उन्हें गिरफ्तार करने में दिक्कत हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: