केसनी आनंद अरोड़ा बनी हरियाणा की 33 वीं मुख्य सचिव

Font Size

हरियाणा के मुख्य सचिव पर पर बिराजमान होने वाली एक ही परिवार की तीसरी बहन हगे केसनी आनंद अरोड़ा

इनसे पहले केसनी की बहन मीनाक्षी आनंद चौधरी और उर्वशी गुलाटी भी बन चुकी है मुख्य सचिव 

सुभाष चौधरी/संपादक 

चंडीगढ़ : हरियाणा सरकार ने 1983 बैच के आईएएस अधिकारी केसनी आनंद अरोड़ा को प्रदेश का मुख्य सचिव नियुक्त किया है. श्रीमती अरोड़ा डी एस ढेसी की जगह लेंगी.  डी एस ढेसी जो 1982 बैच के आईएएस हैं आज मुख्य सचिव के पद से सेवानिवृत्त हो रहे हैं. केसनी  आनंद अरोड़ा वर्तमान में हरियाणा सरकार में अतिरिक्त मुख्य सचिव के पद पर कार्यरत हैं और रेवेन्यू एवं डिजास्टर एवं कंसोलिडेशन डिपार्टमेंट की वित्त आयुक्त हैं. 

प्रदेश की 33 वीं मुख्य सचिव के रूप में श्रीमती अरोड़ा अब प्रदेश मैं जनरल एडमिनिस्ट्रेशन ,पर्सनल, ट्रेनिंग डिपार्टमेंट, पार्लियामेंट्री अफेयर्सऔर एडमिनिस्ट्रेटिव रिफॉर्म्स डिपार्टमेंट की प्रभारी सचिव भी होंगी. इनके अलावा वे प्रदेश की योजना को मूर्त रूप देने वाले प्लान इन कोऑर्डिनेशन की भी प्रभारी सचिव के रूप में काम करेंगी.

श्रीमती अरोड़ा को हरियाणा का मुख्य सचिव बनाए जाने संबंधी प्रपत्र आज हरियाणा सरकार की ओर से  डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल के सचिव नितिन कुमार यादव द्वारा हस्ताक्षरित जारी किया गया है . माना जा रहा है कि श्रीमती अरोड़ा सोमवार से मुख्य सचिव का पद  संभालेंगी. उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विश्वस्त अधिकारी माना जाता है और बेहद प्रशासनिक सूझबूझ वाले अधिकारी के रूप में प्रतिष्ठित हैं. उनके बारे में पिछले वर्ष से ही कयास लगाये जा रहे थे कि उनका मुख्य सचिव बनना तय था.

 उल्लेखनीय है कि श्रीमती अरोड़ा की दो और बहने भी उनसे पहले हरियाणा प्रदेश के मुख्य सचिव का पद संभाल चुकी हैं. इनमें मीनाक्षी आनंद चौधरी और उर्वशी गुलाटी का नाम शामिल है. पिछले वर्ष श्रीमती अरोड़ा की पुत्री श्रुति अरोड़ा भी  यूपीएससी एग्जाम में सफल होकर आईपीएस बन चुकी हैं. कहना न होगा कि आईएएस अधिकारी के रूप में देश व प्रदेश में अपनी सेवा देना श्रीमती अरोरा के परिवार का फैमिली प्रोफेशन बन चुका है. श्रुति ने वर्ष 2018 यूपीएससी एग्जाम में 118  वां रैंक हासिल किया था. 

केसनी आनंद अरोड़ा के पिता डॉक्टर जगदीश चंद्र अरोड़ा पंजाब यूनिवर्सिटी  में राजनीति शास्त्र के जाने-माने और बेहद प्रतिष्ठित प्रोफेसर रहे हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: