पाक को पानी पिला सकता है तेजस : मानस बिहारी

Font Size

 तकनीक में पाकिस्तान, भारत के सामने जीरो

 

दरभंगा : लड़ाकू विमान तेजस को अपनी देख रेख में तैयार करनेवाले वैज्ञानिक मानस बिहारी वर्मा ने दावा किया है कि अगर पाकिस्तान के साथ युद्ध हुए तो हिंदुस्तान से उसको जबरदस्त मुँह की खानी पड़ेगी। मानस बिहारी वर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भारतीय सेना में शामिल हुए नए लड़ाकू विमान तेजस का कोइ जोर नहीं । अकेले तेजस पाकिस्तान को तहस नहस कर सकता है । इसका जवाब पाक के पास नहीं है।

 

 मल्टी मिसाइलों को अपने साथ लेकर हमला करने में सक्षम

 

तेजस की खासियत बताते हुए उन्होंने कहा कि यह लड़ाकू विमान किसी भी विपरीत परिस्थिति में किसी भी मौसम में उड़ान भर दुश्मन को निशाना बना कर तबाह कर सकता है। चाहे दिन हो या रात, तेजस की सबसे बड़ी और जबरदस्त खासियत है कि यह मल्टी मिसाइलों को अपने साथ लेकर दुश्मनो पर हमला कर सकता है चाहे वह परमाणु बम ही क्यू ना हो । तेजस एक बार में लगभग एक घंटे तक उड़ान भर सकता है परंतु जरुरत पड़ने पर यह हवा में ही फ्यूल रिफिल कर और अधिक समय तक दुश्मनो के दांत खटटे कर सकते है ।

 

इतना ही नहीं, दुश्मनो के मिसाइल को भी इंटरसेप्ट कर उसे हवा में ही मार गिराने की क्षमता इस विमान में है । मानस बिहारी वर्मा की माने तो तेजस के सामने पाकिसतान चारो खाने चित हो जाएगा। हलाकि उन्होंने युद्ध ना होने की उम्मीद करते हुए कहा कि यह किसी के हित में नहीं पर अगर उनके द्वारा बनाया गया विमान युद्ध के मैदान में उतड़ता है और सटीक अंजाम पहुचता है तो उन्हें ख़ुशी तो जबरदस्त होगी । बातो बातो में मानस बिहारी वर्मा ने कहा की हिंदुस्तान के सामने तकनीक के मामले में पाकिस्तान का कोइ स्थान नहीं है । इसलिए युद्ध अगर होता भी है तो वह ज्यादा देर टिक नहीं पायेगा ।

 

 पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम के प्रिय मित्र मानस बिहारी वर्मा

यहाँ बताना जरुरी है कि मानस बिहारी वर्मा पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम साहेब के प्रिय मित्र भी रह चुके है और दोनों ने लड़ाकू विमान तेजस के निर्माण में अहम् भूमिका निभाई है। दरभंगा के बाउर गांव निवासी मानस बिहारी वर्मा तब एरोनेटिक रिसर्च सेंटर में बतौर डायरेक्टर  अपनी भूमिका निभा रहे थे।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: