बिल्किस बानो केस के बाद महिला सुरक्षा पर सवाल : बेटी कैसे बचाएं ?

Font Size

गुरुग्राम 30 सितंबर । आज गुड़गांव के नागरिकों के एक समूह ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के नाम लिखित ज्ञापन गुरुग्राम के ए डी सी विश्राम कुमार मीणा को सौंप। इस प्रतिनिधिमंडल में डॉ सारिका वर्मा, श्रुति सिंह, एडवोकेट रचना, समाजसेवी अनु यादव, पारस जुनेजा, सिद्धांत गुप्ता और शत्रुंजय बेनीवाल शामिल थे जिन्होंने जस्टिस फॉर विमेन नामक ग्रुप की तरफ से यह ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम सौंपा। डॉ सारिका वर्मा ने बताया जिस तरह बिलकिस बानो के अपराधियों को गैंगरेप और हत्या के जघन्य अपराधों के बावजूद राजनैतिक संरक्षण देते हुए रिहा कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि आज भारत के हर नागरिक के मन में डर बैठ गया है। केवल नारेबाजी से तो बेटियां बच नहीं सकती इसके लिए समाज को ठोस कदम उठाने पड़ेंगे।


श्रुति सिंह का कहना है की अपराधी कौन सी जाति का है, धर्म का है , या राजनीतिक पार्टी का है इससे अपराध का माप तोल नहीं किया जा सकताl एडवोकेट रचना ने बताया जब तक लोगों को कानून का डर नहीं होगा , अंकिता, ज्योति यादव (निर्भया), उन्नाव ,कथूआ, हाथरस जैसे भयानक कांड होते रहेंगेl समाजसेवी अनु यादव और वार्ड 16 के पारस जुनेजा ने गुडगांव की सड़कों पर स्ट्रीट लाइट और सीसीटीवी कैमरा लगाने का मुद्दा उठायाl कई महीनों से अर्जुन नगर और सेक्टर 12 में स्ट्रीट लाइट लगाने की कोशिश अभी तक सफल नहीं हुई है। सिद्धार्थ गुप्ता और शत्रुंजय बेनीवाल ने एमजी रोड पर शारीरिक व्यापार, ड्रग्स, गुंडागर्दी और गलत कामों का मुद्दा उठाया और बताया कि इफको चौक से सिकंदरपुर तक पूरा इलाका महिलाओं को छोड़ो आदमियों के लिए भी खतरनाक हो गया हैl एडीसी विश्राम कुमार मीणा ने आश्वासन दिलाया की रोड सेफ्टी के तहत 66 डाक स्पोर्ट्स को संज्ञान में लिया गया है और एमजी रोड पर भी बहुत जल्द सीसीटीवी कैमरा और स्ट्रीट लाइट लगाई जाएंगी।

डॉ सारिका वर्मा ने कहा एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले से महिलाओं के सम्मान की बात पूरे देश को बता रहे थे और उसी दिन गुजरात सरकार ने 11 बलात्कारियों को बिल्किस बनो केस में रिहा कर दिया। यही नहीं इन अपराधियों को लड्डू खिलाकर , माला पहना कर स्वागत किया गयाl लेजर वैली पार्क में बीते दिन कई नागरिकों ने महिला सुरक्षा ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया था, जो हमने आज एडीसी साहब को दिया हैl आज हर भारतीय के मन में यही सवाल है की बेटी कैसे बचाई जाए।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: