जी डी गोयनका विश्वविद्यालय ने किया 26 से 29 सितंबर तक विश्व फार्मेसिस्ट दिवस का आयोजन

Font Size

गुरुग्राम। जी .डी. गोयनका विश्वविद्यालय के तत्वाधान में 26 से 29 सितंबर तक उपहार नाम से विश्व फार्मेसिस्ट दिवस का सप्ताहिक आयोजन किया गया। इस आयोजन के दौरान फार्मा क्षेत्र से आए वैज्ञानिकों, अध्यापकों और छात्रों ने पूर्ण उत्साह के साथ सहभागिता की|

इस आयोजन का प्रारंभ एक जागरूकता अभियान के साथ हुआ जिसका नाम फार्माथॉन था|

जी डी गोयनका विश्वविद्यालय ने किया 26 से 29 सितंबर तक विश्व फार्मेसिस्ट दिवस का आयोजन 2

इसके अंतर्गत छात्रों और अध्यापकों ने सोहना क्षेत्र के लोगों को दवाइयों के दुष्प्रभाव के बारे में शिक्षा दी और स्वास्थ्य के बारे में जागरूक बनाया |

इस प्रोग्राम के दौरान स्थानीय फार्मेसिस्ट प्रोफेशनल को सम्मनित किया गया और समाज में उनकी भूमिका को रेखांकित किया|

 उद्घाटन समारोह को सबोधित करते हुए डीन एकेडमिक्स , डॉक्टर रोहित दत्त ने समाज में विभिन्न बीमारियों के दौरान फार्मासिस्ट प्रोफेशनल्स पर प्रकाश डाला और फार्मेसी छात्रों से भारत की विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं का समाधान करने के लिए आह्वान किया|

इस पूरे सप्ताह के दौरान विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां, वाद- विवाद प्रतियोगिताएं और शेषवीक कार्यक्रमों ने लोगों को मनोरंजन के साथ-साथ शिक्षा दी|

जी डी गोयनका विश्वविद्यालय ने किया 26 से 29 सितंबर तक विश्व फार्मेसिस्ट दिवस का आयोजन 3

जनता ने उस कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर सहभागिता की और विश्वविद्यालय से हर वर्ष ऐसे कार्यक्रम करने की अपील की. इस कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए पहलवान सतबीर खटाना ने युवाओं को दवाइयों के दुरुपयोग से बचने की और राष्ट्र के निर्माण में भूमिका अदा करने की प्रेरणा दी|

किसान धर्मवीर की जीवन यात्रा जो जमीन से जुड़ी हुई कृषि से प्रारंभ हुई और आज फार्मा क्षेत्र में उद्यमिता में अपने नए आयाम जोड़ रही है|

उन्होंने छात्रों से बात करते हुए फार्मा क्षेत्र के माध्यम से देश के विकास में योगदान करने की प्रेरणा दी।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: