उत्तर प्रदेश ग्रेपलिंग कुश्ती चैंपियनशिप में सिक्का जमाने वाले बरेली के खिलाड़ियों का जोरदार स्वागत

Font Size

ग्रेपलिंग कमेटी ऑफ बरेली के चेयरमैन शैलेंद्र सिंह पाल ने दिया भविष्य में सहयोग का आश्वासन

बरेली। उत्तर प्रदेश सब जूनियर और जूनियर बालक एवं बालिकाएं ग्रेपलिंग कुश्ती चैंपियनशिप प्रतियोगिता में अपना सिक्का जमाने वाले खिलाड़ियों का आज जोरदार स्वागत किया गया। इस चैम्पियनशिप का आयोजन बागपत में ग्रेपलिंग कमेटी ऑफ बरेली, संबद्ध द्वारा ग्रेपलिंग कमेटी ऑफ उत्तर प्रदेश, ग्रेपलिंग कमेटी ऑफ इंडिया और भारतीय कुश्ती संघ के तत्वावधान में किया गया था। जिला बरेली से बाजी मारने वाले पहलवानों के लिए स्वागत समारोह का आयोजन धोपा मंदिर स्थित अखाड़े में किया गया।

उत्तर प्रदेश ग्रेपलिंग कुश्ती चैंपियनशिप में सिक्का जमाने वाले बरेली के खिलाड़ियों का जोरदार स्वागत 2

सब जूनियर प्रतियोगिता में विकास पाल ने 35 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, नीतीश शर्मा ने 50 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, पवन राठौर ने 42 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, अवनीश शर्मा ने 46 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, अयान खान ने 40 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, योगेंद्र पूनिया ने 58 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, सलोनी शर्मा 58 किलोग्राम में स्वर्ण पदक, अन्नु ने 42 किलोग्राम में सिल्वर पदक, शिवम दिवाकर ने 40 किलोग्राम में सिल्वर पदक पर कब्जा जमाया।दूसरी तरफ जूनियर में कुमारी पुष्पा 53 किलोग्राम में सिल्वर पदक कोच संजू प्रताप सिंह की अगुवाई में लेकर आई।

इस मौके पर ग्रेपलिंग कमेटी ऑफ बरेली के चेयरमैन शैलेंद्र सिंह पाल ने कहा प्रतिभागियों ने जो वादा किया था वह निभाया। मैं हृदय से आभारी हूं। बरेली का गौरव बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को उन्होंने आश्वासन दिया भविष्य में कोई भी अड़चन आएगी उस अड़चन को दूर करने के लिए वह पूरी तरीके से शासन और प्रशासन के माध्यम से मदद करेंगे।

कुछ प्रतिभागियों को परिवार की तरफ से दिक्कत आने की शिकायत मिलने पर उन्होंने कहा कि वह घर घर जाकर खेल भावना की जागृति के लिए अभिभावकों को प्रोत्साहित कर बच्चों का मनोबल बढ़ाएंगे।


जिला अध्यक्ष हरीश पाल ने कहा कि अगर आपको अपना भविष्य बनाना है तो प्रतिदिन सुबह और शाम 4 घंटे कड़ी मेहनत करनी होगी तभी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आप अपनी पहचान बना सकते हैं। अगले माह स्वर्ण पदक विजेताओं की राष्ट्रीय स्तर पर देहरादून में प्रतियोगिता है। इसकी तैयारी और दोनों दोगुने जोश के साथ आपको करनी है जिससे आपका अंतरराष्ट्रीय स्तर का सफर तय हो सके।


सलोनी शर्मा ने विश्वास दिलाया की परिवार के लोग जिस विश्वास के साथ हम लड़कियों को प्रोत्साहित करते हैं हम भी अंतरराष्ट्रीय स्तर तक ख्याति प्राप्त कर परिवार का मान बढ़ाएंगे । योगेंद्र पुनिया ने कहा मेरे जीवन का उद्देश्य स्वयं को सशक्त बनाना और आने वाली पीढ़ी का मार्गदर्शन करना है।


इस अवसर पर महासचिव बाबूराम , वैभव जायसवाल, कोषाध्यक्ष सुनील यादव सहित पदाधिकारीगण एवं पारिवारिक सदस्य भी उपस्थित थे ।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: