स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने फिर बनाया विश्व रिकॉर्ड : दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिनों में फतेह की

Font Size

गुरुग्राम । स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने दुनिया की सबसे ऊँची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिन में फतेह कर एक बार फिर से विश्व रिकार्ड क़ायम कर हिंदुस्तान का नाम विश्व पटल पर अंकित किया।

पर्वतारोही नरेंद्र के अनुसार उन्होंने अपने एवरेस्ट अभियान का नाम (आज़ादी का अमृत महोत्सव फास्टेस्ट एवरेस्ट अभियान-2022 ) रखा था । नरेंद्र ने इस अभियान को 6 दिन में बेस कैम्प से बेस कैम्प पूरा कर नया कीर्तिमान रचा। नरेंद्र ने इसके लिए 20 मई को परमिट लिया और अपने अभियान की शुरुआत की। 21 मई को बेस कैम्प सीधा हेलिकॉप्टर से पहुँचे।

स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने फिर बनाया विश्व रिकॉर्ड : दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिनों में फतेह की 2

उन्होंने बताया कि 22 मई की रात एक बजे कैम्प दो के लिए निकल गये। दो दिन कैम्प दो में आराम कर 25 को कैम्प तीन पहुँच कर रात को आराम किया । अगले दिन वह 26 मई सुबह 9 बजे कैम्प चार के लिए निकला और दोपहर 2 बजे कैम्प चार पहुँच गया । कुछ घण्टे आराम कर रात 9:30 को फ़ाइनल समिट पुश के लिए निकला। सुबह 5:02 पर दुनिया की सबसे ऊँची चोटी माउंट एवरेस्ट को फ़तेह कर राष्ट्रीय गान का गा कर आज़ादी का अमृत महोत्सव मनाया। उन्होंने अपने इस विजयी अभियान को रेजांगला युद्ध में शहिंद हुए जवानों को समर्पित किया है।

स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने फिर बनाया विश्व रिकॉर्ड : दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिनों में फतेह की 3

सात महाद्वीपो पर फतेह करने का सपना :

आर्मी जवान कृष्णचंद के पुत्र नरेंद्र का सपना दुनिया के सभी सात महाद्वीपो पर फतेह कर वर्ल्ड रिकार्ड बुक में छाप छोडने का है। नरेन्द्र ने अब तक 5 महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटियों को फतेह किया है। 2012 में पर्वतारोहण के बेसिक, 2013 में एडवांस, 2015 में ऐम०ओ०आइ० ,2022 में सर्च एंड रेस्क्यू के साथ सभी कोर्स पास किए।

स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने फिर बनाया विश्व रिकॉर्ड : दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिनों में फतेह की 4

नरेंद्र ने बताया कि उन्होंने 20 मई 2016 को नेपाल के रास्ते माउंट एवरेस्ट फतह किया। अब तक 5 महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटियों को फतेह किया है। इसमें माउंट एवरेस्ट, किलिमंजारो को दो बार, एलब्रुस कोट्रैवल्स में, कोजास्को व ऑस्ट्रेलिया की 10 सबसे ऊंची चोटियों को फतेह किया व दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊंची चोटी एकंकागुआको फतेह किया है।

नरेंद्र ने अब तक पर्वतारोहण के क्षेत्र में 18 विश्व रिकॉर्ड स्थापित किए हैं। अब अगला लक्ष्य, उत्तरी अमेरिका की सबसे ऊंची चोटी देनाली है। अंटार्कटिका की सबसे ऊंची चोटी विंसन है जिसके लिए तैयारी में लगा हुआ है। इसके साथ साथ विश्व के सभी वर्ल्ड रिकॉर्ड संस्थाओ ने इनको वर्ल्ड किंग का सम्मान दिया है व राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है । पिछले वर्ष नरेंद्र को लॉस एंजिलिस डेवलपमेंट इंस्टिट्यूट,लॉस एंजिलिस( यूनाइटेड स्टेट्स) की तरफ से डॉक्टर ऑफ मोटिवेशन की उपाधि से नवाजा गया।

स्टारेक्स यूनिवर्सिटी के छात्र नरेंद्र सिंह यादव ने फिर बनाया विश्व रिकॉर्ड : दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई बिना अनुकूलन के 6 दिनों में फतेह की 5

देशभक्ति का जज्बा :

पर्वतारोही नरेन्द्र ने 15 अगस्त को यूरोप की एलब्रूश, साउथ अफ्रीका की किलिमांजारो पर वर्ल्ड रिकार्ड बनाते हुए राष्ट्रीय गीत गान किया तथा तिरंगा लहराया। उन्होंने प्रत्येक पर्वत श्रृंख्ला पर तिरंगा लहराकर देश की शान बढाई। नरेन्द्र ने गुरूग्राम से जयपुर और जयपुर से गुरुग्राम व गुरुग्राम से देहरादून व देहरादून से गुरुग्राम तक साईकिल यात्रा कर स्वच्छता का संदेश दिया। साथ ही दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊंची चोटी एकंकागुआ को फतेह कर पुलवामा में हुए शहिदो को समर्पित किया ।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: