लोकसभा चुनाव हारने के बाद पहली बार शनिवार को अमेठी पहुंचे राहुल गांधी : पीएम मोदी पर बोला हमला

Font Size

नई दिल्ली। कांग्रेस  पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा चुनाव हारने के बाद  पहली बार शनिवार को अमेठी पहुंचे। यहाँ लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह मेरा घर है. यहां से मुझे कोई नहीं निकाल सकता.  इस अवसर पर उन्होंने अपनी बहन प्रियंका गांधी के साथ प्रतिज्ञा पद यात्रा भी की।

अमेठी में राहुल के आगमन से कांग्रेस कार्यकर्ता भी उत्साहित नजर आए। राहुल गांधी ने कहा कि कुछ दिन पहले प्रियंका मेरे पास आईं और उसने मुझसे कहा कि लखनऊ चलो। मैंने उससे कहा कि लखनऊ जाने से पहले मैं अपने घर जाना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि अमेठी मेरा घर है। मुझे यहां से कोई अलग नहीं कर सकता।

उन्होंने कहा कि 2004 में मैं राजनीति में आया और पहला चुनाव मैं यहां से लड़ा था और आपने मुझे राजनीति सिखाई मैं आपको धन्यवाद देता हूं। आज देश के सामने दो सबसे बड़े सवाल हैं बेरोजगारी और महंगाई। इन सवालों का जवाब न मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ देते हैं  और ना ही प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी । आप झूठ और सच में फर्क पहचानिए, झूठ कौन बोल रहा है, सच कौन बोल रहा है, इस बात को आप पहचानिए और सच्चाई के साथ खड़े हो जाइए.

कांग्रेस नेता ने कहा कि अभी आपने कुछ दिनों पहले देखा होगा कि प्रधानमंत्री गंगा जी में स्नान कर रहे थे। मगर प्रधानमंत्री देश को यह नहीं कह सकते कि देश में रोजगार क्यों नहीं पैदा हो रहे हैं ? रोजगार खत्म क्यों हो गए हैं ? हमारे देश के युवाओं को रोजगार क्यों नहीं मिल पा रहा है? नरेंद्र मोदी ने जीएसटी दी, जीएसटी से स्मॉल-मीडियम बिजनेस वालों को फायदा नहीं मिला, जबकि सबसे बड़े उद्योपतियों को फायदा मिला.  नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की, कहा कि कालेधन के खिलाफ लड़ाई है, कालाधन मिट जाएगा। सच या झूठ ? कोरोना के समय सबसे अमीर लोगों का लाखों करोड़ का टैक्स माफ किया। जब मजदूरों ने बस-ट्रेन का टिकट मांगा तो उन्हें मना कर दिया गया, पैदल चलने पर मजबूर किया.

उन्होंने कहा कि आज मैं आपको यह समझाने आया हूं कि हमारे युवा ही देश का भविष्य हैं। उनको हिंदुस्तान में रोजगार क्यों नहीं मिल सकता। दूसरा सवाल इतनी तेजी से महंगाई क्यों बढ़ती जा रही है। नरेन्द्र मोदी  इनका जवाब आपको नहीं देंगे, इसलिए मैं आपको इसका जवाब दे रहा हूं। भाइयों और बहनों इस देश को छोटे बिजनेस वाले, मिडिल क्लास दुकानदार, रोजगार देते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी ने देश को अपने दो-तीन पूंजीपति मित्रों के हवाले सब कर रखा है। आप देखिए नरेंद्र मोदी तीन कृषि काला कानून लाए। एक वर्ष बाद ही प्रधानमंत्री माफी मांगते हैं और कहते हैं मुझसे गलती हो गई और तीनों किसी कानून को वापस ले गए। उनकी कमजोरी के कारण चीन की सेना आज लद्दाख में हिंदुस्तान में बैठी है .

राहुल गांधी ने कहा कि हिंदू की भावना अंदर से पैदा होती है, निडरता से पैदा होती है। जिसके दिल में डर होगा, वो हिंदू हो ही नहीं सकता, हिंदू सबके गले लगता है, हिंदू कभी किसी से झूठ नहीं बोल सकता. हिंदुत्ववादी अकेला गंगा में स्नान करता है, हिंदू करोड़ों लोगों के साथ गंगा में स्नान करता है। एक तरफ सच्चाई, दूसरी तरफ झूठ; एक तरफ प्यार, दूसरी तरफ नफरत; एक तरफ अहिंसा, दूसरी तरफ हिंसा। महात्मा गांधी हिंदू और नाथूराम गोडसे हिंदुत्ववादी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page