कॉग्निजैंट ने हरियाणा के स्कूलों में 609 टैबलेट्स एवं 20 इंटरनेट इनेबल्ड लैपटॉप दान किए

51 / 100
Font Size

डिजिटल अंतर को दूर करने एवं वंचित विद्यार्थियों के अध्ययन में मदद करने के लिए निर्माण ऑर्गेनाइज़ेशन के साथ साझेदारी की 

गुरुग्राम, 23 जुलाई, 2021। कॉग्निजैंट ने हरियाणा के प्रमुख शहर गुरुग्राम के जैकबपुरा स्थित गवर्नमेंट सीनियर सेकंडरी स्कूल में  आज आयोजित एक समारोह में सरकारी स्कूलों को 609 टैबलेट्स एवं 20 इंटरनेट इनेबल्ड लैपटॉप दान किए। इस अवसर पर गुरुग्राम के डिप्टी कमिश्नर, आईएएस, यश गर्ग भी मौजूद थे। एनसीआर में यह वितरण अभियान कॉग्निजैंट के देशव्यापी ‘डिजिटल स्कूल्स’ अभियान का हिस्सा है, जो निर्माण संगठन के साथ साझेदारी में क्रियान्वित किया जा रहा है।

हरियाणा में यह अभियान क्षेत्र के सरकारी स्कूलों में कक्षा 9 एवं 10 के 609 से ज्यादा विद्यार्थियों और 25 से ज्यादा स्कूली टीचर्स को लाभान्वित करेगा। कॉग्निजैंट ने इन डिवाइसेस के लिए 1.08 करोड़ रु. से ज्यादा योगदान दिया है।

कॉग्निजैंट द्वारा लॉन्च किए गए ‘डिजिटल स्कूल्स’ अभियान का उद्देश्य डिजिटल अंतर को दूर करना एवं सरकारी स्कूल में विद्यार्थियों को शिक्षा की उपलब्धता प्रदान करना है।

इस समारोह में बोलते हुए मुकुंद गर्ग, वाईस प्रेसिडेंट एवं सेंटर हेड, एनसीआर, कॉग्निजैंट ने कहा, ‘‘हमारा संगठन सामाजिक प्रगति और परिवर्तन के लिए शिक्षा की शक्ति में यकीन करता है। इसलिए कॉग्निजैंट शिक्षा के क्षेत्र में डिजिटल समावेशन लाने के लिए काम करता रहेगा। डिजिटल स्कूल्स अभियान यह सुनिश्चित करने का हमारा एक प्रयास है कि वंचित समुदायों को शिक्षा देने वाले ग्रामीण स्कूल कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न संकटों व डिजिटल असमानताओं का सामना कर सकें तथा शिक्षा देना जारी रख सकें। कॉग्निजैंट की ओर से, मैं राज्य, जिले एवं स्थानीय प्रशासन को धन्यवाद देता हूँ। मैं अपने क्रियान्वयन पार्टनर, निर्माण संगठन का उनके सहयोग के लिए आभार व्यक्त करता हूँ।’’

कंपनी के कर्मचारियों पर केंद्रित कार्यकर्ता कार्यक्रम, कॉग्निजैंट आउटरीच एवं निर्माण के कार्यकर्ता डिवाईसेस के प्रभावशाली इस्तेमाल द्वारा विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने के कार्यक्रम चलाएंगे और शिक्षा के सकारात्मक परिणाम सुनिश्चित करने के लिए उनके इस्तेमाल को बढ़ावा देंगे। कार्यकर्ता फैकल्टी के सदस्यों के लिए भी प्रशिक्षण चलाएंगे और उन्हें डिजिटल कौशल एवं तकनीकों द्वारा सशक्त बनाएंगे ताकि विद्यार्थियों की संलग्नता बढ़कर अध्ययन के बेहतर परिणाम मिलें।

कॉग्निजैंट के सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद देते हुए मयूर पटनाला, सीईओ, निर्माण ऑर्गेनाईज़ेशन ने कहा, ‘‘डिजिटल स्कूल प्रोग्राम के लिए कॉग्निजैंट के सहयोग व पार्टनरशिप ने वंचित विद्यार्थियों की शिक्षा पर महामारी के प्रभाव को कम करने में मदद की। हम यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं कि बच्चों की शिक्षा रुके नहीं। यह प्रोग्राम ग्रामीण स्कूलों में डिजिटल ढांचे को मजबूत करेगा और टीचर ट्रेनिंग प्रोग्राम का विकास करेगा ताकि फैकल्टी के सदस्यों को डिजिटल टेक्नॉलॉजी का इस्तेमाल करने का ज्ञान दिया जा सके।’’

डिजिटल स्कूल्स अभियान के तहत, कॉग्निजैंट छः राज्यों के नौ शहरों में 6.7 करोड़ रु. की लागत से इंटरनेट युक्त 3,730 टेबलेट्स एवं 188 लैपटॉप का दान करेगा। निर्माण ऑर्गेनाईज़ेशन एवं सीबीएम इंडिया ट्रस्ट (दोनों गैरलाभकारी) को क्रियान्वयन पार्टनर बनाया गया। यह परियोजना अगले एक साल में चरणबद्ध रूप से तेलंगाना, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और महाराष्ट्र में निर्माण द्वारा एवं कोलकाता में सीबीएम इंडिया ट्रस्ट द्वारा क्रियान्वित की जाएगी।

डिवाईस का वितरण इस साल चार चरणों में किया जाएगा। पहले चरण का वितरण तेलंगाना एवं कर्नाटक में पूरा किय गया, जिसमें अप्रैल, 2021 में 500 टैबलेट एवं 40 लैपटॉप वितरित किए गए और दूसरा चरण एनसीआर एवं महाराष्ट्र में पूरा किया गया, जिसमें जुलाई, 2021 में वंचित विद्यार्थियों को 1980 टैबलेट एवं 80 लैपटॉप वितरित किए गए। अगले माह, तीसरे व चौथे चरण के वितरण अभियानों में क्रमशः पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और कर्नाटक शामिल होंगे।

 कार्यक्रम में उपस्थित अन्य लोगों में बीआर सीकरी, उपाध्यक्ष, हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट, शील कुमारी, खंड शिक्षा अधिकारी, गुरुग्राम, अनुराधा पुला, प्रोग्राम सीओओ, निर्माण आर्गेनाइजेशन, सुनील कुमार शर्मा, प्रधानाध्यापक, सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, जैकबपुरा, गुरुग्राम और गीता आर्य, प्रिंसिपल, सिविल लाइन्स स्कूल,  गुरुग्राम।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page