बुजुर्गों का तिरस्कार करने वाली संतान पर कटाक्ष कर गई चीफ की दावत

Font Size

गुडग़ांव, 23 जनवरी : कोरोना प्रकोप की महामारी से प्रदेश उबरता जा रहा है। पूर्व की भांति कार्यक्रम भी सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए कार्यक्रम शुरु होने लगे हैं। प्रदेश की संस्कृति व कला
से प्रदेशवासियों को रुबरु कराने के लिए हरियाणा कला परिषद प्रयासरत है।


परिषद द्वारा हर सप्ताह सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन ऑनलाइन परिषद से जुड़े कलाकार करते आ रहे हैं। इसी क्रम में भीष्म साहनी की कहानी पर
आधारित चीफ की दावत का मंचन कलाकारों द्वारा किया गया। परिषद के निदेशक संजय भसीन ने कलाकारों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि बुजुर्गों का तिरस्कार करने वाली संतान पर कलाकारों ने इस नाटक में कटाक्ष किया है।

इस नाटक का निर्देशन रंगकर्मी विकास शर्मा द्वारा किया गया। नाटक में मां काबदर्द, बेटे की बदसलूकी के दृश्यों ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है। यह नाटक मौजूदा समाज का आईना है। नाटक के अंत में सबकुछ सामान्य हो जाता है। इस नाटक में मां की भूमिका में राज कुमारी शर्मा, बेटे श्यामनाथ की भूमिका में अमनदीप व चीफ की भूमिका नितिन गुप्ता ने निभाई है। नाटक में अन्य कलाकारों मन्नू, महक, साजन कालरा, शिवम, आनंद, गौरव, दीपक, मनीष डोगरा का भी सहयोग रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page