केंद्र सरकार ने प्रदर्शनकारी किसानों को आज बातचीत के लिए बुलाया

6 / 100
Font Size

नई दिल्ली : केंद्रीय कृषि कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिल्ली में धरना व प्रदर्शन कर रहे किसानों के 32 संगठनों को आज बातचीत के लिए आमंत्रित किया है .बताया जाता है कि यह बैठक नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में दोपहर 3 बजे होगी जहां पिछली बैठकों में भी शामिल हुए किसानों की प्रतिनिधि भी शामिल होंगे. इस बीच सिंधु बॉर्डर सहित दिल्ली के अन्य बॉर्डर पर भी किसान डटे हुए हैं।

हालांकि अभी तक किसान संगठनों की ओर से सरकार की ओर से आयोजित होने वाली बैठक में शामिल होने संबंधी कोई जानकारी नहीं दी गई है. लेकिन संभावना इस बात की प्रबल है कि आज की बैठक में कुछ किसान संगठनों के प्रतिनिधि अवश्य शामिल होंगे. उल्लेखनीय है कि कृषि मंत्री ने पिछले दिनों किसानों से जुड़े मसलों पर बातचीत के लिए किसान संगठनों को 3 दिसंबर को आमंत्रित किया था लेकिन इस बीच पंजाब से बड़ी संख्या में आए किसानों ने दिल्ली पहुंचकर केंद्र सरकार पर भारी दबाव बना दिया.

पिछले 6 दिनों से दिल्ली में यातायात की स्थिति पूरी तरह चरमराई हुई है. दिल्ली के अंदर और दिल्ली से बाहर जाने वाले लोगों को बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है. केंद्र सरकार के प्रतिनिधि लगातार किसानों से बुरारी स्थित निरंकारी सत्संग मैदान में अपना प्रदर्शन करने की गुजारिश करते रहे. किसान अपनी बात पर अड़े रहे. यही कारण है कि दिल्ली से अलग-अलग राज्यों को जोड़ने वाले बॉर्डर पर कई स्थानों पर किसान अपना प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने बुरारी जाने से इनकार कर दिया. अब जबकि केंद्र सरकार ने अपना पुराना स्टैंड बदल लिया है और 3 दिसंबर से पहले ही बैठक आयोजित करने का ऐलान किया है किसान संगठन सरकार की इस आमंत्रण पर बैठक कर रहे हैं. उम्मीद है कि शीघ्र ही इस संबंध में वह अपना रुख साफ करेंगे

बातचीत के मुद्दों पर किसान संगठन के प्रतिनिधि कृपा सिंह ने कहा की किसान तीनों कृषि कानून को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. बातचीत के दौरान यह सबसे अहम मसला होगा. साथ ही उनका कहना था कि अगर बातचीत हुई तो उसमें किसानों की ओर से पराली जलाने और बिजली बिल से संबंधित अपनी मांगों पर भी सरकार से रुख स्पष्ट करने को कहा जाएगा.

 इस बीच केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पंजाब से दिल्ली पहुंचे प्रदर्शनकारी किसानों से आंदोलन का रास्ता छोड़कर समस्याओं के समाधान के लिए सरकार के साथ बातचीत करने की अपील की है. सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय कृषि सचिव ने आज 1 दिसंबर को आयोजित होने वाली बैठक का आमंत्रण सोमवार को ही पत्र लिखकर दिया था. इसके लिए विज्ञान भवन स्थान निर्धारित किया गया है जहां आज दोपहर 3 बजे यह बैठक होना संभावित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: