राजस्थान सरकार एमएसपी पर मूंग, उड़द, सोयाबीन व मूंगफली खरीद का प्रस्ताव केंद्र को भेजेगी : गोयल

48 / 100
Font Size

उपज के भंडारण के लिए गोदामों की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी

जयपुर, 29 सितम्बर। वेयर हाउस कॉरपोरेशन के अध्यक्ष पी.के. गोयल ने कहा कि समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की होने वाली खरीद के लिए भंडारण की पूरी व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में वेयर हाउस कॉरपोरेशन के पास1 लाख 50 हजार मीट्रिक टन तथा सीडब्लयूसी के पास 95 हजार मीट्रिक टन भंडारण क्षमता उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि नैफेड़ गोदामों में रखी उपज को शीघ्र स्थानांतरित करें ताकि 12 लाख मीट्रिक टन की भंडारण क्षमता का उपयोग हो सके।


खरीफ 2020 में दलहन एवं तिलहन की खरीद व्यवस्था के संबंध में मंगलवार को वर्चुअल तरीके से आयोजित राज्य स्तरीय स्टैरिंग कमेटी के समक्ष श्री गोयल ने विचार व्यक्त किये। प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता एवं कृषि कुंजीलाल मीणा ने कहा कि राज्य में नवम्बर माह में मूंग, उड़द सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद के लिए भारत सरकार को प्रस्ताव भेजे जा रहे है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार से अनुमति मिलने पर खरीद प्रारंभ की जाएगी।

श्री मीणा ने कहा कि पीएसएस गाइडलाइन के अनुसार मूंग, उड़द सोयाबीन एवं मूंगफली की उत्पादन की अधिकतम 25 प्रतिशत मात्रा खरीदी जाती है। इस हिसाब से भारत सरकार को 12.22 लाख मीट्रिक टन उपज खरीद हेतु प्रस्ताव भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि खरीद के लिए 1935 करोड़ रूपये की कार्यशील पूंजी एवं रिवाल्विंग फंड की आवश्यकता होगी। इस पर वित्त विभाग के सचिव श्री सुधीर शर्मा ने कहा कि पूरा सहयोग प्रदान किया जाएगा।


प्रमुख शासन सचिव ने कहा कि खरीद के लिए स्थापित होने वाले केन्द्र को विशेष निर्देश दिए जाएंगे कि एफएक्यू मानक के अनुसार ही जिंसों की खरीद की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि एफएक्यू मानक के अनुसार खरीद नहीं करने पर संबंधित समितियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी एवं खरीद से भी बाहर किया जाएगा। रजिस्ट्रार, श्री मुक्तानन्द अग्रवाल ने कहा कि खरीद के दौरान विभाग द्वारा संगठित प्रयासों से सर्तकता रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन एवं राजफैड़ का भी सहयोग लिया जाएगा।


प्रबंध निदेशक, राजफैड़ सुषमा अरोड़ा ने प्रजन्टेशन के माध्यम से होने वाली खरीद की प्रक्रिया को प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि 2 दिन के भीतर सभी खरीद केन्द्र स्थापित कर लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिला कलक्टर समय पर गिरदावरी जारी करने के निर्देश पटवारियों को दे ताकि पंजीयन के समय किसानों को परेशानी नही हो। उन्होंने कहा कि खरीद के दौरान बारदाने की पर्याप्त व्यवस्था के लिए नैफेड के अधिकारियों को निर्देशित कर दिया है।


बैठक के दौरान वित्त, सहकारिता, पुलिस, राजफैड़, अपेक्स बैंक, वेयर हाउस कॉरपोरेशन, नैफेड़ सहित अन्य विभागों एवं संस्थाओं के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: