पीएम नरेंद्र मोदी आज रात्रि 8 बजे देश को संबोधित करेंगे, बड़े ऐलान की संभावना

Font Size

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज एक बार फिर देश को संबोधित करेंगे। उन्होंने ट्वीट कर यह जानकारी दी है कि आज रात्रि 8:00 बजे देश को संबोधित करेंगे। समझा जाता है कि प्रधानमंत्री कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम को लेकर चल रहे देशव्यापी लॉक डाउन के संबंध में कुछ अहम ऐलान कर सकते हैं। लॉक डाउन समाप्त करने को लेकर विशेषज्ञों में मतभेद है जबकि देश के कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने लॉक डाउन को एक्सटेंड करने की मांग की है जबकि गुजरात सहित कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इसे चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने की गुजारिश की है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की थी। उक्त बैठक में बिहार पंजाब महाराष्ट्र पश्चिम बंगाल तेलंगाना तमिलनाडु जैसे राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने एक बार फिर संक्रमण की रोकथाम को प्रभावी बनाने की दृष्टि से लॉक डाउन को और आगे बढ़ाने पर बल दिया। दूसरी तरफ गुजरात हरियाणा सहित कुछ ऐसे राज्य भी थे जिन की ओर से प्रधानमंत्री को लॉक डाउन समाप्त कर उद्योगी एवं व्यावसायिक गतिविधियों को संचालित करने की मांग की थी।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री के समक्ष राज्यों को इस मामले में स्वायत्तता देने की वकालत की थी। उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर के सुर में सुर मिलाते हुए केंद्र सरकार से वित्तीय मदद जारी करने की मांग की साथ ही शहरी गरीबों के लिए भी 200 दिन के रोजगार गारंटी योजना शुरू करने का सुझाव दिया था।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक में केंद्र की भाजपा सरकार पर लॉक डाउन के मामले में राजनीति करने का सीधा आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों के अधिकार क्षेत्र में अनावश्यक हस्तक्षेप करने की कोशिश में है जो फेडरल स्ट्रक्चर को नुकसान पहुंचाने वाला कदम है।

उक्त बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन वित्त मंत्री डॉ निर्मला सीतारमण सहित कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

1 दिन पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता वाली नेशनल डिजास्टर एग्जीक्यूटिव कमिटी एवं अन्य विशेषज्ञों के साथ ही मैराथन बैठक की थी। देश में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति की समीक्षा भी की गई थी। समझा जाता है कि प्रधानमंत्री देश के विभिन्न पक्षों से विचार विमर्श करने के बाद लॉक डाउन को लेकर किसी निष्कर्ष पर पहुंच चुके हैं और आज इस संबंध में कुछ बड़ा खुलासा कर सकते हैं।

चर्चा इस बात की जोरों पर है की अब लॉक डाउन को राष्ट्रव्यापी नहीं बल्कि राज्यवार बनाए रखा जाएगा। इस संबंध में निर्णय लेने के लिए अब अधिक संक्रमित वाले राज्यों को अधिकृत कर दिया जाएगा जिससे उन राज्यों में रेड जोन ऑरेंज जॉन एवं ग्रीन जोन घोषित करने के लिए भी स्वयं निर्णय ले सकेंगे।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने पहले 22 अप्रैल को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था और उसके थी 1 दिन बाद देशव्यापी लॉक डाउन 21 दिनों के लिए लागू करने की घोषणा की थी। लोक डाउन की दूसरे चरण को भी 4 मई तक के लिए घोषित करने भी प्रधानमंत्री मोदी स्वयं देश के सामने आए थे लेकिन तीसरे चरण के 2 सप्ताह वाले नॉक डाउन जो वर्तमान में जारी है की घोषणा केवल केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी नोटिफिकेशन के द्वारा ही कर दी गई थी। हालांकि लोगों को इस बार दिया उम्मीद थी कि तीसरे चरण की घोषणा करने भी प्रधानमंत्री स्वयं देश के सम्मुख आएंगे या फिर अपने रिकॉर्डेड वीडियो संदेश जारी करेंगे लेकिन केवल आदेश जारी कर इसे एक्सटेंड कर दिया गया था।

अब जबकि लगभग 2 माह होने की स्थिति है और संक्रमण की रफ्तार कम होने की वजह तेज हो गई है साथ ही कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पुनः लोक डाउन को एक्सटेंड करने की जोरदार वकालत की है ऐसे में प्रधानमंत्री का देश को पुनः संबोधित करने का ऐलान करना लोगों के लिए कौतूहल का विषय बन गया है। अभी से ही आम जनता में चर्चा का विषय बना हुआ है की एक बार फिर कुछ राहत के साथ लॉक डाउन को एक्सटेंड करने की घोषणा पुनः हो सकती है। दूसरी तरफ कई राज्यों में औद्योगिक एवं व्यावसायिक गतिविधियां पुनः संचालित करने की बड़े पैमाने पर अनुमति जारी कर देने से लॉक डाउन के एक्सीडेंट होने की संभावना अब क्षीण हो गई लगती है। बहरहाल प्रधानमंत्री ने देश की जनता के लिए अब क्या निर्धारित किया है इन कयासों पर विराम तो आज रात्रि 8:00 बजे ही लग पाएगा उनका संबोधन शुरू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: