गुरुग्राम से 4700 से अधिक प्रवासी नागरिक यूपी तथा उत्तराखंड के लिए रवाना हुए

Font Size
  • 98 बसों में 3531 यात्री उत्तराखंड गए
  • 45 बसों में 1200 प्रवासी नागरिक यूपी गए हैं।

गुरुग्राम, 9 मई। जिला गुरूग्राम से प्रवासी नागरिकों का अपने घर वापिस लौटने का क्रम लगातार जारी है। शनिवार को गुरुग्राम से 4700 से अधिक प्रवासी नागरिक उत्तर प्रदेश तथा उत्तराखंड के लिए रवाना हुए हैं।


जिला प्रशासन के प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को गुरुग्राम में तीन स्थानों से कुल 98 बसों में 3531 प्रवासी नागरिक उत्तराखंड के लिए रवाना हुए। इनमें 38 बसें ताऊ देवी लाल स्टेडियम से रवाना हुई जिसमें 1455 व्यक्ति उत्तराखंड के पिथौरागढ़ तथा रुद्रप्रयाग गए हैं और गुरुग्राम के सेक्टर 14 स्थित राजकीय महाविद्यालय से 30 बसों में सवार होकर 1084 यात्री उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल, चमोली तथा टीहरी गढ़वाल अपने घरों को गए हैं। गुरुग्राम के मुख्य बस अड्डे से भी 28 बसों में 993 यात्री उत्तराखंड के नैनीताल, बागेश्वर तथा यूएस नगर में अपने घरों को गए हैं।
शनिवार को ही गुरुग्राम से 45 बसों में लगभग 1200 यात्री उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों के लिए रवाना हुए हैं। ये यात्री उत्तर प्रदेश के शामली, सहारनपुर, बागपत तथा मथुरा अपने घरों को वापस गए हैं।


पिछले 3 दिनों में गुरुग्राम से 282 बसों में सवार होकर 9179 प्रवासी नागरिक उत्तराखंड में अपने घरों को लौट चुके हैं। बता दें कि 7 मई को 105 बसों में 3037 यात्री, 8 मई को 79 बसों में 2611 यात्री तथा 9 मई शनिवार को 98 बसों में 3531 यात्री अपने घरों को उत्तराखंड जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि इससे पहले भी गुरुग्राम से 2745 प्रवासी नागरिक अपने घरों को लौट चुके हैं। इनमें उत्तर प्रदेश के 523, राजस्थान के 24, मध्यप्रदेश के 148 तथा बिहार के 2050 नागरिक शामिल हैं। बिहार के मुजफ्फरपुर की तरफ जाने वाले यात्रियों को हिसार, भागलपुर की तरफ जाने वाले यात्रियों को अंबाला तथा कटिहार जाने वाले यात्रियों को रोहतक रेलवे स्टेशन पर छुड़वाया गया था, जहां से ये यात्री रेल में बैठकर अपने घरों को लौट चुके हैं। इस प्रकार, गुरुग्राम से 13000 से अधिक संख्या में प्रवासी नागरिक हरियाणा सरकार द्वारा उपलब्ध करवाई गई मुफ्त यात्रा सुविधा के माध्यम से अपने घरों को लौट चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: