भांजे ने ही 65 लाख रुपये व लैपटॉप चोरी करवाए : भांजा और दो चोर पुलिस के हत्थे चढ़े

Font Size

गुरुग्राम : घर में घुसकर जेवरात, 65 लाख रूपये व लैपटॉप चोरी करने वाले दो शातिर आरोपियों को अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के अनुसार आरोपियों ने पीङित के भान्जे के साथ मिलकर चोरी करने की योजना, बनाई थी और उसी आधार पर आरोपियों चोरी की वारदात को अन्जाम दिया था । शिकायतकर्ता के भान्जा को पुलिस टीम द्वारा पहले ही किया गिरफ्तार जा चुका है। चोरी की गई नगदी में से 10 लाख रूपये पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जा से बरामद की गई है। इससे पहले शिकायतकर्ता के आरोपी भान्जे (राजेश) से एक लाख रुपए बरामद किए गए थे।

गुरुग्राम पुलिस के पी आर ओ सुभाष बोकन ने बताया कि गत 10 फ़रवरी को थाना पालम विहार, गुरुग्राम में रमेश पुत्र सुखबीर निवासी नोबल इक्लैव प्लाट नम्बर- 37-D ओल्ड दिल्ली रोड, गुडगांव ने एक लिखित शिकायत की . उन्होंने शिकायत में बताया कि यह अपने मामा दलबीर राणा निवासी देवराला के साथ काम करता है। 7 फ़रवरी को इसका मामा इसके फ्लैट पर पैसे थैले में डालकर रखकर चण्डीगढ चला गया था। इसने रूपये का थैला अपनी अलमारी मे रख दिया. वहां पर इसकी पत्नी के गहने भी रखे थे। इसके मामा ने यहां चिनाई का काम करवा रहे है। उस बैंग में कितने पैसे थे ये इसके मामा बताएंगे। किसी नामालूम द्वारा अलमारी में रखी नगदी, गहने व Laptop इत्यादि सामान चोरी कर ले गया था।

 

श्री बोकन के अनुसार इस शिकायत पर थाना पालम विहार, गुरुग्राम में अभियोग अंकित किया गया। इस अभियोग में कार्रवाई करते हुए अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से अपने साथियों सहित मिलकर घर में चोरी करने की योजना बनाने वाले एक आरोपी को दिनांक 14 फरवारी को गुरुग्राम से काबू करने में सफलता हासिल की थी। आरोपी की पहचान राजेश पुत्र मनोज निवासी गाँव सरंल, थाना तोशाम, जिला भिवानी के रूप में हुई थी।

 

उन्होंने बताया कि आरोपी से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि पकड़ा गया आरोपी शिकायतकर्ता रमेश पुत्र सुखबीर का भान्जा है। यह जानता था कि इसके मामा/शिकायतकर्ता के घर में नगदी व जेवरात रखे हुए है. इन्होनें अपने अन्य 02 साथियों के साथ मिलकर योजना बनाई कि यह मकान के अन्दर वाले दरवाजे को अन्दर खुला छोङ देगा और वो घर में रखी अलमारी से नगदी व जेवरात चोरी कर ले। इस आधार पर आरोपी के साथियों ने नगदी, जेवरात व लैपटॉप चोरी करने की वारदात को अन्जाम दिया था।

 

आरोपी राजेश के पास से पुलिस टीम द्वारा एक लाख रूपये की नगदी भी बरामद की गई थी।

 

मामले की ख़ास बातें :

▪उपरोक्त अभियोग में आगामी कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने उपरोक्त अभियोग में मकान के अन्दर घुसकर चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने वाले उपरोक्त आरोपी के निम्नलिखित 02 साथी आरोपियों को दिनांक 27.02.2020 को कमला इन्कलेव पटौदी रोङ, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की हैः-

 

  1. राहुल पुत्र जयबीर निवासी गाँव सरंल, थाना तोशाम, जिला भिवानी, उम्र 23 वर्ष।

 

  1. जोगेन्द्र उर्फ मोटा पुत्र प्रताप निवासी गाँव कुराङ, थाना सानौली, जिला पानीपत।

 

▪आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

 

▪पुलिस पूछताछ में उक्त आरोपियों ने बतलाया कि उक्त आरोपी राहुल व उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता का भान्जा राजेश उपरोक्त एक ही गाँव के रहने वाले है और आपस में एक-दूसरे को अच्छी तरह से जानते है। इन्होनें अपने उक्त साथी जोगेन्द्र उर्फ मोटा के साथ मिलकर उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता के घर में रखी नगदी, जेवरात व लैपटॉप चोरी करने की योजना बनाई। उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता के भान्जे आरोपी राजेश ने मकान के अन्दर के दरवाजे को अन्दर से खुला छोङ दिया। योजनानुसार उक्त दोनों आरोपियों राहुल व जोगेन्द्र ने घर में घुसकर चोरी की वारदात को अन्जाम दिया।

 

▪आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग में चोरी की गई नगदी में से 10 लाख रुपयों की नगदी पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जा से बरामद की गई है। अब तक पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त आरोपियों के कब्जा से कुल 11 लाख रुपयों की नगदी बरामद की जा चुकी है।

 

▪आरोपियों को दिनांक 28 फरवारी को अदालत के सम्मुख पेश कर पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया।

 

▪पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपियों से अन्य वारदातों व अन्य साथी आरोपियों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग में बरामदगी की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: