देश के 21 हवाई अड्डे से आने वाले विदेशी यात्रियों की गहन जाँच के आदेश

Font Size

नई दिल्ली : केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज लोक सभा में बताया कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से फैलने के खतरे के नियंत्रण के लिए दिल्ली और अन्य बड़े हवाई अड्डे सहित देश के 21 हवाई अड्डे से भारत आने वाले विदेशी यात्रियों की गहन जाँच के आदेश दिए गए हैं.चीन के अलावा हांगकांग और सिंगापुर से आने वाले सभी फ्लाइटों को निर्धारित एयरोब्रिज में पार्क कर जांच करने को कहा गया है. सभी फ्लाइट्स की यूनिवर्सल थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है. व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण और एन 90 मास्क के निर्यात पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने  इसे ‘पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी ऑफ इंटरनेशनल कंसर्न’ घोषित किया है. 

 

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने लोक सभा में क्या कहा ?  

केन्द्रीय मंत्री ने संसद में दिए बयान में कहा है कि इस वायरस के रोकथाम की दृष्टि से कई उपाय किए गए हैं। यात्रा संबंधित प्रथम परामर्श का  17 जनवरी 2020 को जारी की गई थी और  स्थिति के अनुसार यात्रा परामर्श का को संशोधित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में चीन से आने वाले किसी भी विदेशी नागरिक का वर्तमान वीजा जिसमें पूर्व में जारी भी सम्मिलित किया गया है सभी को रद्द कर दिया गया है. 

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि भारत आने के लिए विवश लोगों को बीजिंग में भारतीय दूतावास अथवा शंघाई व द्वान्ग्जो में दूतावास से संपर्क करने को कहा गया है.भारतीय नागरिकों को चीन की यात्रा करने से बचने की सलाह दी गयी है. जो लोग भी चीन से भारत लौटेंगे उनकी संघन जांच की जाएगी. 18 जनवरी से ऐसे यात्रियों की जांच की जा रही है. उन्होंने सदन को बताया कि देश में चीन से आने वाले सभी मामलों तथा ऐसे व्यक्तियों से संपर्क रखने वाले लोगों और जिन्हें ज्वर व खांसी की तकलीफ है, उनकी नियमित निगरानी शुरू की जा चुकी है।इस समय देश में 9,452 यात्रियों पर नजर रखी जा रही है.

उन्होंने बताया कि भारत मेंं, केरल से अब तक #NovelCoronavirus के तीन पॉजिटिव मामलों की रिपोर्ट आई है। इन सभी मामलों का चीन के #Wuhan शहर से यात्रा का इतिहास है। इन्हें अलग रखा गया है और नैदानिक रूप से स्थिर बताया गया है।

उन्होंने संसद को बताया कि प्रारंभ में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता बेंगलुरु, हैदराबाद और कुछ एयर पोर्ट को कवर किया गया उसके बाद कुल 21 हवाई अड्डे को इस सीमा में लिया गया है । चीन के अलावा हांगकांग और सिंगापुर से आने वाले सभी फ्लाइटों की यूनिवर्सल थर्मल स्क्रीनिंग को अनिवार्य किया गया है। इन फ्लाइट की जांच को सुनिश्चित करने के लिए निर्धारित एयरोब्रिज में पार्क किया जाएगा। हवाई अड्डे और पत्तनों में निर्देश पत्रिका लगाने के निर्देश दिए गए हैं.  हवाई जहाज में इससे संबंधित घोषणाएं की जा रही हैं। और सभी यात्रियों द्वारा स्व घोषणा प्रपत्र भी भरे जा रहे हैं। व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण और एन 90 मास्क जैसे महत्वपूर्ण सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। इस प्रकार के उपकरण के निर्यात को विदेश मंत्रालय द्वारा प्रतिबंधित कर दिया गया है। व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण और एन 90 मास्क के बफर स्टॉक की जानकारी केंद्र सरकार द्वारा रखी जाती है।

उन्होंने बताया कि #NovelCoronavirus की जांच के National Institute of Virology, Pune देश की नोडल प्रयोगशाला है। इस रोग पर निगरानी रखने के लिए एक 24X7 नियंत्रण कक्ष (011-23978046) बनाया गया है। चीन से आने वाले यात्रियों व कार्मिक दल की पहचान करने व उनमें #NovelCoronavirus के लक्षण पाए जाने के मामले में उन्हें पृथक करने के लिए देश के 12 प्रमुख पत्तनों के साथ-साथ सभी छोटे पत्तनों पर भी यात्रियों की जांच शुरू की गयी है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: