एग्जिट पोल ने आप को बहुमत दिया : अरविन्द केजरीवाल फिर बन सकते हैं सीएम

Font Size

सुभाष चन्द्र चौधरी 

नई दिल्ली। दिल्ली में विधानसभा चुनाव का मतदान शाम 6:30 बजे तक चला। अब तक मिली जानकारी के अनुसार इस बार 67.08  प्रतिशत के आसपास मतदान हुए हैं। सभी न्यूज चैनल्स ने मतदान समाप्त होने के बाद एग्जिट पोल प्रकाशित करना शुरू कर दिया है। अधिकतर न्यूज चैनल्स ने अपने एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को बहुमत मिलने की संभावना जताई है. इससे साफ़ है कि अरविन्द केजरीवाल एक बार फिर दिल्ली की गद्दी पर बैठने जा रहे हैं और भाजपा को यहाँ विपक्ष की भूमिका ही निभानी पद सकती है. ऐसे में दोनों के बीच राजनीतिक तकरार फिर देखने को मिल सकते हैं. एग्जिट पोल की खबर के बीच केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के सभी 7 सांसदों और दिल्ली क्र भाजपा प्रभारी व सह प्रभारी को रात्री 8.30 बजे बैठक के लिए बुलाया है. संभावना प्राबल है कि दिल्ली के चुनाव को लेकर जिस प्रकार के संकेत मिल रहे हैं उस पर जवाब तलब किया जा सकता है. 

रिपब्लिक भारत/रिपब्लिक टीवी जन की बात के एग्जिट पोल के अनुसार दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार दोबारा बनने जा रही है।
रिपब्लिक भारत ने आम आदमी पार्टी को 48 से 61 सीट, भाजपा को 9 से 21 सीट जबकि कांग्रेस को केवल एक सीट मिलने की संभावना जताई है। यहां भाजपा के सहयोगी एल जे पी और जद यू को कोई सीट मिलने की संभावना नहीं है। वोट प्रतिशत के मामले में भाजपा के वोट प्रतिशत बढ़े हैं लेकिन यह सीट में तब्दील नहीं हो पा रहा है। आप को 51 से 52 प्रतिशत , भाजपा को 38 से 40 प्रतिशत जबकि कांग्रेस पार्टी को 4 से 5 प्रतिशत वोट मिलने का दावा किया है जबकि अन्य को भी 5 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं। कुल मिला कर संकेत है कि आम आदमी पार्टी को एक बार फिर दिल्ली में बहुमत मिलने जा रहा है।

इससे पूर्व वर्ष 2015 में हुए दिल्ली विधानसभा के चुनाव में आम आदमी पार्टी को कुल 70 सीटों में से 67 सीटें मिली थी जबकि भाजपा को केवल 3 सीटें और कांग्रेस के हाथ पूरी तरह खाली रह गए थे।

दूसरी तरफ इंडिया टीवी ने अपने सर्वे में आम आदमी पार्टी को 44 सीटें , भाजपा को 26 जबकि कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिलने का दावा किया है। इस सर्वे से भी यह स्पष्ट हो गया है कि दिल्ली में केजरीवाल की ताजपोशी तय है।

टाइम्स नाउ आई पी एस ओ एस सर्वे के अनुसार आम आदमी पार्टी को 47 सीटें जबकि भाजपा को 23 सीटें और कांग्रेस को शून्य सीटें मिलने की संभावना है।

एबीपी न्यूज सी वोटर ने अपने सर्वे में आप को 49 से 63, भाजपा को 5 से 19 सीटें जबकि 4 सीटें दी हैं .

टीवी 9 भारतवर्ष ने आम आदमी पार्टी को 54  सीटें जबकि भाजपा को 15  सीटें मिलने का संकेत दिया है । 

इंडिया न्यूज़ एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को 53 से 57 सीटें जबकि भाजपा को 11 से 17 सीटें मिलने के संकेत दिखाए गए हैं। इस न्यूज़ चैनल ने भी कॉन्ग्रेस का खाता नहीं खुलने की संभावना जताई है।

आज तक के एग्जिट पोल में भी आप ने बहुमत का जादुई आंकड़ा पार कर लिया है जबकि भाजपा पिछड़ रही है.  

उल्लेखनीय है कि इस बार दिल्ली विधानसभा का चुनाव लड़ रहे कुल 672  प्रत्याशियों में से  79 महिला प्रत्याशी हैं . यह कुल प्रत्याशियों का  11 प्रतिशत है। इस बार का चुनाव प्रचार बेहद गर्म रहा जिसके बीच शाहीन बाग और बिरयानी जैसे मुद्दे छाए रहे। वर्ष 2015 में हुई दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी ने 70 में से 67 सीटें जीती थी जबकि 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर कब्जा जमा लिया था।

 

%d bloggers like this: