गुरुग्राम विधानसभा क्षेत्र में निर्णायक भूमिका में हैं बाहरी प्रदेशों के मतदाता !

Font Size

मोहित ग्रोवर के पक्ष में गोलबंद होने की प्रबल संभावना

सभी उम्मीदवारों की नजर बाहरी मतदाताओं पर ही

गुरुग्राम में रहने वाले कई सामाजिक संगठनों ने चुनाव को लेकर रखी अपनी राय

गुड़गांव । विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं शहर में खेमे बंदी तेज होती नजर आ रही है । दरअसल गुरुग्राम विधानसभा क्षेत्र में इस समय सबसे अधिक मतदाता दूसरे प्रदेशों के हैं जो ज्यादातर नौकरी पेशे से हैं जो गुरुग्राम में ही रह कर अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं। गुरुग्राम विधानसभा में बाहरी मतदाताओं की संख्या अधिक होने के चलते अब बाहरी मतदाता ही विधानसभा चुनाव में अहम भूमिका में नजर आने लगे हैं। चुनाव को लेकर अलग-अलग प्रदेशों के अलग-अलग संगठनों के अध्यक्षों से और समाजसेवियों से बात की तो लोगों ने बताया कि इस बार दूसरे प्रदेशों के गुरुग्राम में रह रहे मतदाता सबसे ज्यादा विश्वास मोहित ग्रोवर पर जता रहे हैं। कारण यह है कि अन्य कई दलों के प्रत्याशियों को वह पहले भी आजमा चुके हैं। बाहरी मतदाता अब एक अलग ही मूड में नजर आ रहे हैं। पेश है बाहरी मतदाताओं से बातचीत के कुछ अंश :

मिथिलांचल के लोगों को मोहित ग्रोवर से मिला सबसे अधिक सम्मान : राजेश ठाकुर

विधानसभा चुनाव को लेकर मिथिलांचल सेवा समिति के पदाधिकारी राजेश ठाकुर व प्रकाश झा, देवानंद झा से बात की तो उन्होंने कहा कि मौजूदा प्रत्याशियों में अब तक मिथिलांचल के लोग सभी प्रत्याशियों से मिल चुके हैं, लेकिन जो मान सम्मान जो विश्वास उन्हें मोहित ग्रोवर में नजर आया वह किसी अन्य प्रत्याशी मे नजर नहीं आया। मिथिलांचल के लोग इस बार मोहित ग्रोवर को ही मौका देना चाहते हैं चुनाव से पहले मिथिला सेवा समिति सभी मिथिलांचल के लोगों की एक बड़ी बैठक करके सभी मिथिलांचल के भाइयों से इस संदर्भ में अभी विचार-विमर्श भी कर चुके हैं। अब तक मिथिलांचल के सभी भाई मोहित ग्रोवर का ही नाम आगे बढ़ा रहे हैं। श्री ग्रोवर के नाम पर सभी परिवारों में आम सहमति है क्योंकि छठ घाट के निर्माण का वायदा और उन कालोनियों पर पूरी तवज्जो देना जिनमें मिथिलांचल के लोग सर्वाधिक रहते हैं, लोगों को भा गया है। मोहित ग्रोवर हर प्रकार की सांस्कृतिक गतिविधियों में एक पारिवारिक सदस्य की भांति शामिल होते हैं जिससे इनके प्रति लोगों का विश्वास पुख्ता हो चला है।

पूर्वांचल मंच ने भी रखी अपनी राय

पूर्वांचल मंच के अध्यक्ष उपेंद्र राय महासचिव अटल बिहारी समेत अन्य पदाधिकारियों ने कहा कि हर बार चुनाव में पूर्वांचल के लोगों को तरह तरह के वादे करके गुमराह करने का काम किया जाता है, विभिन्न पार्टियों से चुनाव लड़ रहे ज्यादातर प्रत्याशी कई बार चुनाव के दौरान पूर्वांचल के लोगों को गुमराह करके वोट भी हथिया चुके हैं। लेकिन चुनाव खत्म होते ही सभी नेता पूर्वांचल के लोगों को धक्के खाने के लिए छोड़ देते हैं। पूर्वांचल के लोगों की बात सुनने के लिए भी यहां के किसी नेता के पास समय नहीं होता है। मौजूदा समय में सभी पूर्वांचली के घर घर मोहित ग्रोवर ने पहुंचकर अपनी मजबूत पहचान, पूर्वांचल के लोगों के बीच बनाई है। अब तक जो विश्वास पूर्वांचल के लोगों में मोहित ग्रोवर ने भरा है, वह विश्वास जताने के लिए अन्य कोई भी प्रत्याशी सामने भी नहीं आया है। ऐसे में पूर्वांचल समाज मोहित ग्रोवर को अपना नेता मानने को तैयार बैठा है। हालाकिं अभी चुनाव में एक सप्ताह से अधिक का समय है सभी पूर्वांचल समाज के लोग जल्द ही एक बैठक करने वाले हैं जिसमें मोहित ग्रोवर एक स्वर से समर्थन देने का निर्णायक फैसला लिए जाने की प्रबल संभावना है। उन्होंने बताया कि इस चुनाव में यह साफ मैसेज बड़े लेवल पर पूर्वांचल समाज के लोग देने वाले हैं कि जिसके साथ पूर्वांचल के लोग खड़े होंगे अब वही हरियाणा विधानसभा में पहुंचेगा।

मोहित ग्रोवर पर पूरा विश्वास है : राजस्थानी समाज

राजस्थानी समाज के प्रमुख उमराव और पंडित विनोद शास्त्री ने कहा कि क्षेत्र के विकास को लेकर उन्हें मोहित ग्रोवर पर सबसे अधिक विश्वास है। उनका कहना है कि श्री ग्रोवर ही विधानसभा में पहुंचकर क्षेत्र का सही मायने में विकास कर सकते हैं। कारण यह है कि यह युवा नेता राजनीति में सिर्फ सेवा भावना से आए हैं। उन्हें लगता है कि अगर मोहित ग्रोवर विधानसभा पहुंचे तो गुरुग्राम का सबसे अधिक विकास करने वाले विधायकों की सूची में वह नंबर वन रहेंगे।
पंडित विनोद शास्त्री ने कहा कि उनका समाज मोहित ग्रोवर के साथ जाने के लिए तैयार है। अब तक कई नेता राजस्थानी समाज के लोगों के पास अपना प्रचार प्रसार करने के लिए आए, लेकिन जो नेतृत्व क्षमता और दूर दृष्टि मोहित ग्रोवर में दिखी अब तक किसी नेता में दिखा नहीं है। इसलिए उन्होंने निर्णय लिया है कि वह अपने समाज के लोगों को एकजुट कर फैसला ले चुके हैं कि चुनाव में मोहित ग्रोवर के साथ जाना है।

राजपूत समाज के अजीत राठौर ने भी रखी अपनी राय

मूल रूप से यूपी के रहने वाले अजीत राठौर लक्ष्मण विहार में रहते हैं और राजपूत समाज से ताल्लुक रखते हैं। अजीत राठौर ने कहा कि चुनावी सीजन में जो लोग तरह तरह के वादे कर रहे हैं, वह चुनाव आने से पहले कहां थे, जो वादे आज कर रहे हैं वे वादे उन्होंने चुनाव से पहले क्यों नहीं किए। उन्होंने कहा कि अधिकतर नेता झूठे वायदे कर राजनीतिक रोटियां सेंकने में जुटे हैं लेकि। मोहित ग्रोवर ने पिछले एक साल से लगातार राजपूत समाज के लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलने का काम किया है। कई लोगों की निस्वार्थ भावना से मदद की है। दुख सुख में शामिल होते रहे हैं । उन्होंने कहा कि जो विश्वास मोहित ग्रोवर ने उन लोगों पर जताया है उस विश्वास पर राजपूत समाज के लोग भी खरे उतरेंगे।

इस बार बदलाव चाहती है जनता : राव राय सिंह

लक्ष्मण विहार में रहने वाले राव राय सिंह का कहना है कि वह कई दशक से यहां रह रहे हैं और राजनीति में सभी नेताओं को भलीभांति जानते भी हैं। इस चुनाव में जो नेता सामने आ रहे हैं उसमें से सबसे ज्यादा आम लोगों का झुकाव अब तक मोहित ग्रोवर के प्रति ही देखा जा रहा है। राव राय सिंह का कहना है कि क्षेत्र की जनता इतने झटके खा चुकी है कि अब परेशान हैं। इसलिए एक बड़ा बदलाव चाहती है, मोहित ग्रोवर एक नया चेहरा, युवा चेहरा और पढ़ा लिखा चेहरा सबको दिखाई दे रहा है। प्रखर वक्ता हैं जबकि गुरुग्राम विधानसभा क्षेत्र की समस्याओं से पूरी तरह परिचित हैं। शायद यही कारण है कि लोगों का ज्यादा झुकाव मोहित ग्रोवर के प्रति है। उनका कहना है कि अन्य नेताओं को भी जनता भलीभांति जानती है और पिछले वर्षों के कामकाज व कार्यशैली की तुलना भी कर रहे हैं। इसलिए भी आम जनमानस आज शायद बड़े बदलाव का मन बना चुका है। इसका सीधा असर चुनाव में दिखना अवश्यम्भावी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: