आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के एल जी पर लगाये तीन गंभीर आरोप : कहा जांच से क्यों भाग रहे हैं ?

Font Size

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी ने आज एक बार फिर प्रेसवार्ता आयोजित कर दिल्ली के एल जी विनय कुमार सक्सेना पर तीखा हमला बोला. आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता व विधायक सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली के उपराज्यपाल पर तीन गंभीर आरोप लगाये. उन्होंने उप राज्यपाल सक्सेना पर संवैधानिक पद के अनुरूप काम नहीं करने का आरोप लगाया.

पत्रकारों को संबोधित करते हुए आप प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि खादी ग्रामोद्योग के चेयरमैन के रूप में सक्सेना ने अपने पुराने नोट नोटबंदी के दौरान  कर्मचारियों पर दबाव दाल कर बदलवाए.  आप नेता ने इस मामले की जांच की मांग दोहराई . उल्लेखनीय है कि इस मामले को आप विधायक ने विधानसभा में भी उठाया था.

सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि तत्कालीन खाड़ी ग्रामोद्योग के चेयरमैन सक्सेना ने अपनी ही बेटी को मुंबई खादी लौंज के निर्माण का काम दे दिया. उन्होंने इसमें आवश्यक प्रक्रिया का पालन नहीं करने का आरोप लगाया. आप नेता ने कहा कि अपने रिश्तेदारों को नियमानुसार भी टेंडर नहीं दे सकते हैं लेकिन खामियां बरती गईं. आम विधायक ने इसकी भी जांच की मांग की.

आम आदमी पार्टी के विधायक भारद्वाज ने तीसरा और गंभीर आरोप यह कहते हुए लगाया कि पटना हाई कोर्ट ने खादी ग्रामोद्योग के कारीगरों को बैंक अकाउंट में पैमेंट जारी करने का आदेश दिया था. विनय सक्सेना ने केवल एक लाख 95 हजार कारीगरों को ही अकाउंट में पेमेंट दिए जबकि बाकी के कारीगरों को कैश में पेमेंट दिए गए. उन्होंने कहा कि कैश पेमेंट में खामियों की आशंका परबल रहती है. उन्होंने कहा कि इन मामले की जांच कराने के लिए दिल्ली के उपराज्यपाल तैयार नहीं हैं .

सौरभ भारद्वाज प्रेसवार्ता में क्या बोले ? 

अपने ऊपर आरोपों से बचने के लिए LG साहब रोज़ नए नाटक कर रहे हैं

ये मामला डेढ़ साल से CBI के पास है, उन्हें कुछ नहीं मिला

इस मामले में एक भी Bus नहीं ख़रीदी गयी, एक भी Payment नहीं हुआ

Investigation करके ख़त्म करो, हमारा Process तो तब से रोका हुआ है

ईमानदार व्यक्ति कहता है कि मुझ पर आरोप लगे तो जांच कर लो।

CBI इस मामले में 1.5 Year से जांच कर रही है। हम नहीं भाग रहे हैं।

MP-MLAs ने सबूतों के साथ LG पर आरोप लगाए लेकिन LG जांच से भाग रहे हैं

LG जांच से बचने के लिए ही रोज़ नया नाटक करते हैं।

‘इसमें कोई Criminal Negligence नहीं है’-ये ख़ुद पुराने LG की Report है

आजतक साबित कुछ नहीं हुआ है लेकिन इन्हें हर Department की जांच करनी है

Kejriwal जी सीना ठोक कर कहते हैं कि CBI-ED से जांच करवा लो

LG के मुंह से निकले ये शब्द?

हम Defamation से नहीं डरते हैं

मुझे एक वाक़या याद है..

जब एक अफ़सर ने छोटे कर्मचारियों को सस्पेंड करना शुरू कर दिया। तब तक करते रहा जब तक सबको ये समझ नहीं आया कि अगर नौकरी करनी है, suspend नहीं होना, तो ठेकेदार, सीधे अधिकारी के सीधे सम्पर्क में रहें और Percentage देनी शुरू करें।”

हमें पता है LG पर प्रधानमंत्री का Pressure है कि रोज़ ArvindKejriwal जी के ख़िलाफ़ कुछ निकालें, लेकिन इस बार आनन-फ़ानन में ग़लती कर दी, वो File भेज दी जो पहले दो बार CBI के पास भेज चुके थे। जब Bus ख़रीद का Tender नहीं हुआ, Bus ख़रीदी नहीं गई तो घोटाला कैसे हुआ ?

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: