गाङी में लिफ्ट देकर लूटने वाले 2 बदमाश गिरफ्तार

Font Size

गुरुग्राम ब्रेकिंग :   गाङी में लिफ्ट देकर मारपीट करते हुए लूटपाट करने की वारदात को अन्जाम देने वाले 02 शातिर आरोपियों को अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों द्वारा लिफ्ट देकर मारपीट करके लूटपाट करने में प्रयोग की गई 01 कार (होण्डा सिटी) भी पुलिस टीम ने आरोपियों के कब्जा से बरामद की है .

 

गुरुग्राम पुलिस के ए सी पी क्राइम प्रीत पाल ने पत्रकारों को बताया कि दिनांक 15.01.2022 को थाना डी.एल.एफ. फेस-2, गुरुग्राम में एक सूचना रवि कुमार S/o स्व0 देवी सिंह ड़ागुर निवासी H No. 65/125 सुखराली Sec-17, गुरुग्राम झीनाझपटी व लूटपाट में लगी चोटों के कारण कल्याणी हस्पताल, गुरुग्राम में दाखिल है।

एसीपी क्राइम ने बताया कि प्राप्त सूचना पर पुलिस थाना डी.एल.एफ. फेस-2, गुरुग्राम की पुलिस टीम कल्याणी हस्पताल, गुरुग्राम पहुंची गई और घायल रवि कुमार की MLR व पुलिस सूचना पत्र प्राप्त किया गया। उसके बाद घायल रवि कुमार को उनके परिजनों ने उसे ESI हस्पताल Sec-3 IMT मानेसर, गुरुग्राम में ईलाज के लिए दाखिल करा दिया। पुलिस टीम आगामी कार्यवाही के लिए घायल रवि कुमार उक्त के ब्यान लेने ESI हस्पताल Sec-3 IMT मानेसर, गुरुग्राम पहुंची तो घायल रवि कुमार ड़ागुर S/o श्री स्व0 देवी सिंह ड़ागुर गाँव सोमली पी0ओ0 सोमला थाना सुरोठ जिला करोली, राजस्थान, हाल किराएदार मकान नं. 68/125 VPO सुखराली Sec-17, गुरुग्राम, उम्र 30 वर्ष ने पुलिस टीम को बतलाया कि यह गुगल टॉवर C Sec-15, गुरुग्राम में एलेक्ट्रिशियन (MST) का कार्य करता है। दिनांक 15.01.2022 को इसके दोस्त विरेन्द्र S/o घसीड़ा निवासी गाँव सोमली पी0ओ0 सोमला थाना सुरोठ जिला करोली (राज0) का सुबह करीब 3.30 AM पर फोन आया कि वह सिकंदरपुर मेट्रो के पास खड़ा है और उसके पास पास कोई साधन नही है तो यह उसको लेने के लिए सिकंदरपुर मेट्रो पर के लिए चल दिया। समय करीब 3.40 AM के आस-पास यह इफ्को चौक पर MG रोड की तरफ खड़ा हो गया तो उसी समय एक सफेद रंग की गाड़ी आकर रुकी तो इसने ड्राईवर से पूछा कि इसे सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन जाना है तो ड्राईवर ने कहा कि सिकंदरपुर ही जाऊंगा गाड़ी में बैठ जाओ गाड़ी में ड्राईवर के अलावा 2 व्यक्ति और बैठे थे। एक व्यक्ति ड्राईवर के साथ वाली सीट पर व 1 व्यक्ति पिछली सीट पर बैठा था तो यह पीछे वाले व्यक्ति के पास बैठ गया। गाड़ी करीब 500 मीटर MG रोड पर चलने के बाद ड्राईवर के साथ बैठे व्यक्ति ने एक मुक्का इसके मुँह पर मारा और गाड़ी चालक ने गाड़ी को U-Turn लेकर जयपुर हाईवे पर घूमा लिया और जयपुर की तरफ चल पड़े। इसने अपना बचाव करते हुए गाड़ी के स्टेरिंग को काबू करने की कोशिश की तब उन्होनें Sec-31 फ्लाईओवर क्रॉस करते हुए गाड़ी रोककर इसको उतार दिया और इसको मोबाइल फोन, पर्स जिसमे करीब 1100 रुपए, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेन्स, PNB बैंक का ATM व अन्य कागजात लूट लिए तथा ड्राईवर के अलावा दो लड़को ने गाड़ी में रखी स्टील रोड से इसके सिर व हाथ पर काफी चोटें मारी। तीनों व्यक्ति गाड़ी सहित मौके से भाग गए। बाद में यह राहगीरों की सहायता से ईलाज के लिए कल्याणी हस्पताल, गुरुग्राम मे दाखिल हो गया तथा उसके बाद इसके परिजनों ने इसको ईलाज के लिए ESI हस्पताल Sec-3 IMT मानेसर, गुरुग्राम में दाखिल करा दिया।

▪️उक्त ब्यानों पर थाना डी.एल.एफ. फेस-2, गुरुग्राम में कानून की सम्बन्धित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪️इस अभियोग में तत्परता से कार्यवाही करते हुए निरीक्षक नरेन्द्र चौहान, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-17, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व अपनी समझबुझ से उपरोक्त अभियोग में लिफ्ट देकर मारपीट करने व लूटपाट करने की वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 02 शातिर आरोपियों को कल दिनांक 18.01.2022 को नजदीक कन्यूनिटी सैन्टर एम.जी. रोङ सुखराली, गुरुग्राम से काबू करने में बङी सफलता हासिल की हैः-

1. मन्दीप पुत्र रामअवतार निवासी आजाद नगर चन्द्रलोक, जिला हिसार, उम्र 20 वर्ष।

2. मुकेश उर्फ चाईनीज पुत्र अनिल कुमार निवासी गांव खरवापुर, थाना भगवानपुर, जिला सिवान, बिहार, हाल निवासी मकान नं. 711, गली नं. 11 कापसहेङा, दिल्ली, उम्र 20 वर्ष।

▪️आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪️पुलिस पूछताछ में उपरोक्त आरोपियों ने अपने अन्य साथी के साथ मिलकर उपरोक्त अभियोग में पीङित/शिकायतकर्ता को कार/गाङी में लिफ्ट के बहाने से बैठाकर उसके साथ मारपीट करने व उससे उसका मोबाईल फोन व पर्स लूटने की वारदात को अन्जाम देना स्वीकार किया है।

▪️उपरोक्त आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग की गई 01 कार (होन्डा सिटी) पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जा से बरामद की गई है।

▪️आगामी कार्यवाही हेतु उपरोक्त आरोपियों को अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा। पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपियों से अन्य साथी आरोपियों व अन्य वारदातों के बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी। पुलिस पूछताछ में जो भी तथ्या सामने आएंगे नियमानुसार आगामी कार्यवाही की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: