मांझी के नाम पर चेहरा चमकाने की कोशिश से कुछ फायदा नहीं होगा, गरीब ब्राह्मणों का:- अमरेंद्र त्रिपाठी

7 / 100
Font Size

पटना 21 दिसंबर : हम के राष्ट्रीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सह पार्टी के मीडिया प्रभारी अमरेंद्र कुमार त्रिपाठी ने ब्राह्मण समाज के तथाकथित नेताओं पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि कुछ स्वार्थी प्रवृत्ति के ब्राह्मण समाज के नेता और संगठनों द्वारा मांझी के नाम पर राजनीति की जा रही है यह उचित नहीं। ऐसी राजनीति से गरीब ब्राह्मणों का कुछ भला नहीं होगा ।

अमरेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि जब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने प्रेस को संबोधन में स्पष्ट रूप से कहा कि हमने जो भी वक्तव्य दिए, वह हम अपने लोगों के लिए कहा था ना कि ब्राह्मण समाज के लिए। लेकिन यदि ब्राह्मण समाज को लगता है कि हमने उनके लिए अपशब्द बोला है, तो मैं ब्राह्मण समाज से माफी मांगता हूं ।

त्रिपाठी ने कहा कि जब जीतन राम मांझी जी ने अपने बयान में माफी मांगी है तो उसके बावजूद ब्राह्मण समाज से कुछ स्वार्थी संगठन और उनके नेताओं द्वारा बार-बार जीतन राम मांझी के प्रति दुर्भावना कि हम कड़ी निंदा करते हैं । ऐसे तथाकथित ब्राह्मण नेताओं को कहना चाहूंगा कि इससे ब्राह्मण समाज को कोई लाभ नहीं मिलेगा । जो ब्राह्मण समाज के नेता बने बैठे हैं वह अपनी राजनीतिक रोटी सेकना चाहते हैं ना कि ब्राह्मणों का भला करना चाहते हैं।

त्रिपाठी ने कहा कि जीतन राम मांझी के माफी वाले बयान के बाद झूठ मूठ का नौटंकी कर रहे हैं। ब्राह्मण संगठन और उनके नेता गरीब ब्राह्मणों के हित में काम करें।

अमरेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि 2 दिन से बहुत सारे दूसरे राज्यों से भी ब्राह्मण संगठनों ने के नेताओं ने हमसे फोन से संपर्क किया और जब हमने वस्तु स्थिति से उनको अवगत कराया तो उसके बाद उन सभी ने अब इस विवादित बयान को तूल नहीं देने की अपील ब्राह्मण समाज से की है । ब्राह्मण समाज ने अपील किया कि जीतन राम मांझी जी को अभिभावक के रूप में सम्मान मिले ।

त्रिपाठी ने कहा कि ब्राह्मण समाज के संगठन जो हैं वह मुद्दों से भटक गया है । ब्राह्मण समाज का काम है सभी को जोड़कर चलना, ना कि द्वेष फैलाना । इसलिए मेरा मानना है कि आज भी ब्राह्मण सभी के लिए पूजनीय माने जाते हैं । इसलिए ब्राह्मण समाज और संगठन से अपील करना चाहूंगा कि इस तरह की ओछी राजनीति से बच्चे । अन्य समाज को जोड़ने का काम करें ब्राह्मण संगठन ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: