आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह बनेगा : आर एस सांगवान, संयुक्त निदेशक

4 / 100
Font Size

आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह

– इस संग्रह को तैयार करने में माँगा जिलावासियों से सहयोग

आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रहगुरुग्राम,17 नवंबर।  75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के आजादी के ‘अनसंग’ हीरो यानी ‘गुमनाम’ नायकों (स्वतंत्रता सेनानियों) को उचित सम्मान दिलाने के उद्देश्य के तहत जिला स्तर पर डिजिटल संग्रहण का कार्य किया जा रहा है।

सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक (एनसीआर) एवं जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी रणबीर सांगवान ने बताया कि आजादी की 75वीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में इतिहास के पन्नों में ऐसे नायकों और स्वतंत्रता संग्राम की ऐसी घटनाओं, जो ज़्यादा सुर्ख़ियों में नहीं आ पायी, उनकी सूची तैयार कर, प्रदेश भर में जिलावार डिजिटल संग्रह तैयार किए जा रहे हैं। आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह

इसी कड़ी में गुरुग्राम जिला में भी ऐसे नायकों, स्थलों व घटनाओं की सूची तैयार की जा रही है जो आज भी आमजन की जानकारी से अछूते हैं। उन्होंने बताया कि सन 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम से लेकर 1947 में आजादी मिलने तक अनेकों नायकों ने अपने प्राणों को आहुति दी है, इसलिए हम सभी का यह कर्तव्य है कि उन नायकों के संघर्ष की दास्तान व उनसे जुड़े स्थलों से आज की युवा पीढ़ी व आने वाली नस्लों को अवगत कराएं।

 

श्री सांगवान ने बताया कि भारत के स्वाधीनता संग्राम में योगदान को रेखांकित करने के लिए विभिन्न स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। इसी कड़ी में सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग हरियाणा द्वारा सेक्टर 14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय में 21 अक्तूबर से 25 अक्तूबर तक पांच दिवसीय डिजिटल प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया था। जिसमें जिलावासियों ने बड़ी संख्या में शामिल होकर अपनी रुचि दिखाई थी।

जिला स्तरीय कमेटी का गठन

श्री सांगवान ने बताया कि जिला स्तर पर बनाए जा रहे डिजिटल संग्रह के लिए उपायुक्त डॉ यश की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी में गुरुग्राम के जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी को नोडल अधिकारी व रोहतक स्थित पुरातत्व विभाग के सहायक निदेशक रणवीर मान इसके सदस्य बनाए गये हैं ।

इस समिति को इस महीने के आख़िर तक डिजिटल संग्रह तैयार करके ज़िला प्रशासन व राज्य सरकार के पास भेजना है. इसलिए किसी भी जिलावासी के पास स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े ज़िला के व्यक्तियों, वीरों, स्वतंत्रता सेनानियों, उनसे जुड़े महत्वपूर्ण स्थलों की कोई भी जानकारी या दस्तावेज हों तो ज़िला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के लघु सचिवालय स्थित कार्यालय में पहुँचाए या फिर ई मेल द्वारा dprogurgaon@gmail पर भेजे।

 

श्री सांगवान ने इस अवसर पर जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि आपके पास यदि गुरुग्राम जिला से जुड़े गुमनाम नायकों अथवा आजादी से संबंधित घटनास्थलों की कोई भी जानकारी उपलब्ध हो तो उसे 21 नवंबर से पहले जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी कार्यालय गुरुग्राम के साथ सांझा अवश्य करें। आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह आज़ादी आंदोलन के गुमनाम नायकों व घटनाओं का जिला स्तरीय डिजिटल संग्रह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page