जम्मू-कश्मीर में खेलों के ढांचे को विकसित करने के लिए 200 करोड़ आवंटित: अनुराग ठाकुर

Font Size

प्रमुख बातें

  • केंद्रीय खेल मंत्री ने बडगाम, पुलवामा और अनंतनाग में अत्यधिक सुसज्जित तीन इनडोर-स्टेडियम का भी वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया

नई दिल्ली :  केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा है कि केंद्र सरकार ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में खेल के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए 200 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं और इससे जम्मू-कश्मीर के सभी जिलों में एक-एक अत्यधिक सुसज्जित इनडोर स्टेडियम बनेंगे। आज उन्होंने ये बातें केंद्र सरकार के जन संपर्क कार्यक्रम के तहत बडगाम में खिलाड़ियों, पीआरआई के सदस्यों, डीडीसी, बीडीसी और छात्रों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहीं।

 

मंत्री ने बडगाम, पुलवामा और अनंतनाग में अत्यधिक सुसज्जित तीन इनडोर स्टेडियम का भी उद्घाटन किया। मंत्री ने कहा कि अब इन स्टेडियमों में खेलों की सुविधा, मौसम या किसी अन्य व्यवधानों से प्रभावित हुए बगैर, 365 दिन चलेगी।

मंत्री ने आगे कहा, “भविष्य में, मेरी इच्छा और लक्ष्य होगा कि मैं जम्मू-कश्मीर के प्रत्येक जिले में जाऊं और जमीन पर मौजूद जरूरतों को व्यक्तिगत रूप से देखूं।” उन्होंने यह भी कहा कि सरकार खेलों के वर्तमान ढांचे को अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप उन्नत बनाने और सुधारने की प्रक्रिया शुरू करने जा रही है। अपने संबोधन में मंत्री ने देश के सभी देशववासियों से इन जगहों पर आने और यहां के हरे-भरे चारागाहों, स्वच्छ वातावरण और जम्मू-कश्मीर के लोगों के आतिथ्य को देखने की अपील की।

इस अवसर पर मंत्री ने युवा पीढ़ी, विशेष तौर पर प्रेरित करने वाले युवा, से नशीले पदार्थों से दूर रहने और खेलों को व्यक्तिगत विकास, क्षमता और प्रतिभा को निखारने के माध्यम के रूप में उपयोग करने की अपील की, जो उन्हें, चाहे खेल हो या शैक्षणिक क्षेत्र, किसी भी प्रतियोगिता में प्रतिस्पर्धा करने योग्य बनाएगा।

जम्मू-कश्मीर में खेलों के ढांचे को विकसित करने के लिए 200 करोड़ आवंटित: अनुराग ठाकुर 2

उन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण सामने आई ढेर सारी कठिनाइयों के बावजूद इन महत्वपूर्ण परियोजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए जम्मू-कश्मीर के जिला प्रशासन और खेल परिषद के प्रयासों की भी सराहना की।

श्री ठाकुर ने कहा कि उन्हें यह देखकर काफी प्रसन्नता हुई कि जम्मू-कश्मीर के युवा खेल गतिविधियों में गहरी रुचि दिखा रहे हैं। मंत्री ने जोर देकर कहा, “खेलों के बुनियादी ढांचे के अभाव के कारण हमारे खिलाड़ी निराश नहीं महसूस करेंगे।” सभी खेल गतिविधियों में वांछित परिणाम पाने के लिए उन्होंने युवाओं को नए और वैज्ञानिक ढंग से प्रशिक्षण देने पर जोर दिया।

जम्मू-कश्मीर में खेलों के ढांचे को विकसित करने के लिए 200 करोड़ आवंटित: अनुराग ठाकुर 3

इससे पहले, कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर माननीय मंत्री का केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल के सलाहकार फारूक अहमद खान, प्रमुख सचिव वाईएसएस, निदेशक वाईएसएस कश्मीर, डीसी बडगाम शाहबाज अहमद मिर्जा और एसएसपी बडगाम सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने स्वागत किया।

अपने स्वागत भाषण में, श्री फारूख अहमद खान कहा कि आज के दिन को केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के खेल प्रेमियों, खास तौर पर बडगाम, अनंतनाग और पुलवामा के युवा खिलाड़ियों के लिए, एक शुभ दिन के रूप में याद किया जाएगा, जहां तीन सुसज्जित इनडोर स्टेडियम का उद्घाटन हुआ है और उन्हें खेल गतिविधियों के लिए खोल दिया गया है। उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में वर्तमान सरकार ने खेलों के बुनियादी ढांचे को विकसित देशों में उपलब्ध बुनियादी ढांचे के अनुरूप बनाने के लिए एक व्यापक योजना तैयार की है। उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री का लक्ष्य खिलाड़ियों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं उपलब्ध कराना है, ताकि वे ओलंपिक स्तर पर प्रतिस्पर्धाओं में भाग ले सकें और पदक जीतकर देश का नाम रोशन कर सकें।

तीन इनडोर स्टेडियम का उद्घाटन करने के बाद, मंत्री ने स्थानीय वॉलीबॉल की दो टीमों के खिलाड़ियों से बातचीत की। इन खिलाड़ियों ने उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान एक वॉलीबॉल मैच भी खेला, जिसकी एक वॉलीबॉल खिलाड़ी के रूप में माननीय मंत्री ने सराहना की। मंत्री ने बॉक्सिंग, जूडो और तलवारबाजी से जुड़े एथलीट्स की खेल गतिविधियों को भी देखा।

दिन भर चले समारोह में विभिन्न जिला और क्षेत्रीय अधिकारियों के अलावा डीडीसी के अध्यक्ष नजीर अहमद खान के साथ डीडीसी, बीडीसी और अन्य पीआरआई सदस्य भी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page
%d bloggers like this: