सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों के विस्तार और विकास से बनेगा भारत आत्मनिर्भर : प्रताप चंद्र सारंगी

Font Size

नयी दिल्ली : फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मंडल जम्मू कश्मीर इकाई द्वारा आयोजित बेवनार में केंद्रीय राज्यमंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सूक्ष्म लघु तथा मध्यम उद्योगों का विस्तार और विकास किया जाना आवश्यक है। साथ ही उन्होंने गौ संवर्धन और गाय आधारित खेती एवं इससे जुड़े उद्योग के बारे में भी प्रकाश डाला कि किस प्रकार भारत को आत्मनिर्भर बनाया जा सकता है ।

एमएसएमई के निदेशक आईएएस अधिकारी महोदय ने फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मंडल के पदाधिकारियों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि सूक्ष्म ,लघु एवं मध्यम विभाग सभी प्रकार से व्यापारियों और उद्यमियों के साथ है। तथा विभाग का सारा काम ऑनलाइन है। किसी भी व्यापारी को विभाग के चक्कर लगाने की कहीं कोई आवश्यकता नहीं है ।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों के विस्तार और विकास से बनेगा भारत आत्मनिर्भर : प्रताप चंद्र सारंगी 2

जम्मू कश्मीर के एमएसएमई विभाग की डायरेक्टर ने कहा कि जम्मू कश्मीर राज्य में उद्योग लगाने हेतु हमारे विभाग द्वारा उद्यमियों का पूर्ण सहयोग किया जा रहा है।

फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मंडल जम्मू कश्मीर राज्य के अध्यक्ष संजय बंसल जो वेबिनार के मुख्य आयोजन कर्ताओं में थे ने सभी का परिचय कराने के साथ ही व्यापारी हित में सदैव कार्य करते रहने का संकल्प दोहराया।

वेबिनार में राष्ट्रीय अध्यक्ष जयेंद्र तन्ना ने मंत्री महोदय व अधिकारियों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि फेडरेशन व्यापारी और सरकार के बीच एक सशक्त सेतु की भांति कार्य करता रहेगा। साथ ही उन्होंने दोहराया की फेडरेशन पूरी तरह गैर राजनीतिक व्यापारिक संगठन है।

वेबिनार का संचालन शरद वार्ष्णेय ने किया।  वेबिनार में पीसी ज्वेलर्स के मालिक राहुल गुप्ता एवं बीकानेर भुजिया वालों ने उद्यमियों की समस्या और सुझाव रखे ।

फेडरेशन के पदाधिकारियों में राष्ट्रीय महामंत्री राधेश्याम शर्मा ,राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत तन्ना, सी एच कृष्णा, संजय बंसल, भूपेंद्र सिंह सोबती, शैलेन्द्र विक्रम, मनोज गुप्ता, जितेंद्र चतुर्वेदी ,अजय अग्रवाल सहित विभिन्न प्रदेशों के व्यापारी प्रतिनिधियों ने भाग लिया तथा भविष्य में भी इस प्रकार की वेबिनार के लिए आशा व्यक्त की।

You cannot copy content of this page

%d bloggers like this: