हरियाणा में आज से 7 दिनों के लिए पूर्ण लॉक डाउन का ऐलान

47 / 100
Font Size

सुभाष चौधरी

चंडीगढ़:  हरियाणा सरकार ने आशंका के अनुरूप कोरोना संक्रमण के विकराल स्वरूप को देखते हुए पूरे प्रदेश में आज से यानी 3 मई से 7 दिनों के लिए संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. इससे पहले सरकार ने गत शुक्रवार रात्रि 10:00 बजे से सोमवार सुबह 5:00 बजे तक के लिए सप्ताहांत के 2 दिनों के लिए पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की थी।

यह जानकारी हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अपने ट्विटर हैंडल पर दी है . उन्होंने कहा है कि प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की चिंताजनक स्थिति को देखते हुए सरकार ने 3 मई सोमवार से 7 दिन के लिए सारे हरियाणा में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का निर्णय किया है।

उल्लेखनीय है कि देश के अन्य राज्यों की तरह हरियाणा में भी गुरुग्राम और फरीदाबाद सहित कई जिले में नए संक्रमित मरीजों की संख्या बेहद तेज गति से बढ़ने लगी है. अकेले गुरुग्राम में ही औसतन 4 से 5000 कोविड-19 के नए मामले सामने आने लगे हैं. जबकि पिछले 24 घंटे में पूरे प्रदेश में 13588 नए पॉजिटिव के मिले हैं। दूसरी तरफ प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का पूरा तंत्र इस कदर चरमराया हुआ है की संक्रमित मरीजों को गंभीर अवस्था में भी न तो अस्पतालों में बेड मिल रहे हैं और ना ही ऑक्सीजन. गुरुग्राम और फरीदाबाद में हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं.

प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन पिछले कई दिनों से ऑक्सीजन का कोटा बढ़ाने का दावा करते रहे हैं. लेकिन धरातल पर स्थिति बेहद चिंताजनक हो चली है. रविवार को भी गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में कई लोगों की जानें ऑक्सीजन नहीं रहने के कारण चली गई जबकि आज भी कई अस्पताल ऐसे हैं जो ऑक्सीजन की कमी का रोना रो रहे हैं. लेकिन प्रशासन केबल दावे करने में व्यस्त है.

यहाँ बैठकों का दौर जारी है, विज्ञप्ति जारी कर दी जाती हैं, बयानों से लोगों को ढाढस बधाने की कोशिश हो रही है. मुख्यमंत्री स्वयं ही प्रदेश में कोविड-19 मैनेजमेंट की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. रविवार को 22 वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को अलग-अलग जिले में स्थिति को मॉनिटर करने के लिए तैनात किया गया लेकिन परिस्थितियां लगभग और नियंत्रित सी हैं. ऐसे में प्रदेश सरकार के पास पूर्ण लॉकडाउन लगाने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।

बताया जाता है कि पिछले सप्ताह में ही पूर्ण लॉकडाउन लगाने की खबर जोरों से चलने लगी थी क्योंकि प्रदेश के मुख्य सचिव विजय वर्धन की ओर से प्रदेश सरकार को गुरुग्राम और फरीदाबाद में तत्काल पूर्ण लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया गया था. उनका यह इंटरनल लेटर पूरे प्रदेश में व्हाट्सएप पर तैरने लगा था. तभी लोग यह समझ बैठे थे कि हरियाणा में भी पूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है. हालांकि इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज लगातार पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश में लॉकडाउन लगाने जैसे किसी भी प्रस्ताव पर विचार करने से भी मना कर रहे थे. इस बीच प्रदेश कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने के कारण प्रदेश सरकार आज अगले 7 दिनों के लिए पूर्ण लॉकडाउन लगाने का ऐलान करने को मजबूर हो गई. हालांकि अभी तक पूर्ण लॉकडाउन के प्रारूप की जानकारी नहीं दी गई है लेकिन समझा जाता है कि आवश्यक सेवाओं को छोड़कर लगभग सभी गतिविधियों पर सरकार 1 सप्ताह तक प्रतिबंध लगाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page