बाबासाहेब के सिद्धांतों को जीवन में उतारें : डॉक्टर बनवारीलाल

50 / 100
Font Size

-बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती पर गुरुग्राम में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे थे सहकारिता मंत्री

गुरुग्राम 14 अप्रैल। बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 130वी जयंती पर गुरुग्राम के सेक्टर चार स्थित डॉक्टर अंबेडकर भवन में कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें हरियाणा के सहकारिता तथा अनुसूचित जाति व पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के मंत्री डॉक्टर बनवारीलाल मुख्य अतिथि थे। डॉ बनवारी लाल ने सर्वप्रथम बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने इस मौके पर केक भी काटा।


उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए सहकारिता मंत्री डॉक्टर बनवारीलाल ने कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जैसे महापुरुष किसी एक जाति या समुदाय के नहीं होते बल्कि पूरे समाज के लिए होते हैं। डॉक्टर अंबेडकर ने जो संविधान बनाया उसी पर आज हमारी विधायिका, कार्यपालिका तथा न्यायपालिका सहित लोकतंत्र के तीनों स्तंभ काम करते हैं। उन्होंने कहा कि यह संविधान अमीर और गरीब को समान अधिकार देता है। उन्होंने उपस्थित लोगों से अपील की कि वे बाबासाहेब के संदेश को अपने जीवन में ढालें।
डॉ बनवारी लाल ने कहा कि आज हम मंच पर भाषण दे रहे हैं या विधायक हैं और प्रदेश सरकार में मंत्री हैं या मधु आज़ाद जी गुरुग्राम की मेयर हैं, यह सब बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर द्वारा दिए गए अधिकारों की वजह से संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि बाबासाहेब ने एक नारा दिया था- शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो। उस पर चलते हुए हम शिक्षा तो ग्रहण कर रहे हैं परंतु संगठन की कमी है। अगर संगठित नहीं होंगे तो संघर्ष भी नहीं कर पाएंगे। डॉ बनवारी लाल ने कहा कि जो अधिकार बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने हमें दिए थे वो सभी अभी तक हमें नहीं मिल पाए हैं। इस दिशा में वर्तमान भाजपा सरकार काम कर रही है ।

उन्होंने बताया कि बाबासाहेब को भारत रत्न की उपाधि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपयी के कार्यकाल में दी गई थी। इसी प्रकार जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनकर आए तो उन्होंने सर्वप्रथम बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को नमन किया था। यही नहीं हरियाणा में भी विधानसभा में बाबा साहेब की मूर्ति की स्थापना अब भाजपा सरकार में हुई है। सहकारिता मंत्री ने यह भी बताया कि चिकित्सा के स्नातकोत्तर कोर्सों जैसी एमडी और एमएस के दाखिलों में भी हरियाणा में अब अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्गों को पिछले वर्ष से आरक्षण दिया गया है, उससे पहले नहीं था। इसके लिए हमारे समाज को मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का धन्यवाद करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्मनिर्भर बनने की बात करते हैं, वह योजना हमारे समाज जैसे वंचित व गरीबो के लिए लागू की गई है ताकि हमारे बच्चे स्टार्टअप अपनाकर बैंकों से सस्ती दरों पर ऋण लेकर उद्यमी बने और नौकरी मांगने की बजाए नौकरी देने वाले बने।

इससे समाज में समरसता का भाव आएगा। डॉ बनवारी लाल ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी अंतोदय की बात करते हैं अर्थात समाज में जो अंतिम गरीब और वंचित व्यक्ति है उसको सरकार की योजनाओं का लाभ मिले और उसका जीवन स्तर ऊंचा हो। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र योजना भी इसी का हिस्सा है जिससे परिवार की आय का पता चलेगा कि वास्तव में सरकारी योजनाओं का लाभ लेने का कौन हकदार है। पिछली सरकारों के समय बीपीएल के कार्ड तो बने लेकिन वह सब सिफारिश वालों के बनाए गए। उन्होंने कहा कि हरियाणा में जो ऑनलाइन सेवाएं देनी शुरू की गई हैं, वे भी हमारे समाज के लिए लाभदायक है ताकि सुविधाएं आपको घर बैठे मिल सकें। उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार गरीब के उत्थान के लिए बहुत काम कर रही है।


इससे पहले रणजीत सिंह, विदेश मामलों के मंत्रालय से सेवानिवृत्त आजाद सिंह तूर, मेयर मधु आजाद, सेवानिवृत्त आयकर आयुक्त आर एन पुनिया, जगन पार्षद सहित अंबेडकर सभा गुरुग्राम के पदाधिकारियों ने भी अपने विचार रखे।–

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page