कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारी में जुटा प्रशासन, डीसी ने की निजी अस्पताल प्रबंधनों के साथ बैठक, वैक्सीन की 50 हजार डोज मिली

Font Size

गुरुग्राम 15 जनवरी। कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारियों को आज उपायुक्त डा. यश गर्ग की अध्यक्षता में अंतिम रूप दिया गया। उन्होंने लघु सचिवालय में स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बैठक कर उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस बैठक में निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों सहित वैक्सीनेशन कार्य में लगने वाले स्वास्थ्यकर्मियों ने भाग लिया। इस दौरान उनके साथ सिविल सर्जन डा. विरेंद्र यादव भी उपस्थित थे।

डा. यश गर्ग ने कहा कि वैक्सीन सप्ताह में तीन दिन सोमवार, वीरवार व शनिवार को लगाई जाएगी। सोमवार 18 जनवरी से जिला में चयनित साइटो पर स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके लिए प्रत्येक साईट पर अलग-अलग टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि जिला को लगभग 50 हजार वैक्सीन की डोज प्राप्त हुई हैं। प्रत्येक व्यक्ति को 2 डोज लगेगी। इस प्रकार शुरू में 25 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। सबसे पहले कोरोना संक्रमित मरीजों के क्लोज काॅन्टेक्ट में आने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाने की योजना है।

उन्होंने वैक्सीनेशन कार्य में लगे स्वास्थ्यकर्मियों से कहा कि वे वैक्सीन लगाने को लेकर किसी प्रकार का संशय अपने मन में ना रखें और समय रहते इन्हें दूर कर लेें। वैक्सीनेशन कार्य के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए डा. विरेंद्र यादव ने कहा कि वैक्सीनेशन कार्य सुचारू ढंग से चलाने के लिए माइक्रो प्लान बनाया गया है और इसी अनुरूप कार्य किया जाएगा। प्रत्येक साईट पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से 5 लोगों की टीम लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि 16 जनवरी को जिला की 6 साइटों पर वैक्सीनेशन अभियान चलेगा। निजी अस्पताल तथा वैक्सीनेशन कार्य में लगे स्वास्थ्यकर्मी इन साईटों पर विजिट जरूर करें ताकि उन्हें सोमवार 18 जनवरी से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन कार्य में किसी प्रकार की परेशानी ना हो।

उन्होंने स्पष्ट किया कि वैक्सीन की आगे मिलने वाली डोज के अनुरूप भविष्य की कार्ययोजना तैयार की जाएगी। 18 जनवरी को वैक्सीनेशन का कार्य ठीक 9 बजे शुरू हो जाएगा। प्रत्येक साईट पर एक दिन में 100 लोगों को वैक्सीन लगाए जाने की योजना है। जिन स्वास्थ्यकर्मियों को इस प्रथम चरण में वैक्सीन लगाई जानी है उनके मोबाइल पर एसएमएस भेजा जाएगा जिसमें वैक्सीनेशन के लिए स्थान, समय और तिथि का उल्लेख होगा। उसी अनुसार संबंधित स्वास्थ्यकर्मी वैक्सीन लगवाने के लिए निर्धारित स्थान पर पहुंचे ताकि योजनाबद्ध तरीके से इस कार्य को अंजाम दिया जा सके। सिविल सर्जन ने कहा कि वैक्सीनेशन कार्य में लगाए गए सभी स्वास्थ्यकर्मी वैक्सीनेशन संबंधी तैयारी समय रहते पूरी कर लें।

वैक्सीनेशन के लिए आने वाले व्यक्ति की सुविधा के लिए बनाए गए केंद्रों पर साइनेज आदि की ठीक से व्यवस्था करें। जब व्यक्ति टीका लगवाने आएगा उसकी दो जगह वैरिफिकेशन होगी और साथ साथ उसकी डिटेल कोविन पोर्टल पर अपलोड की जाएगी। पोर्टल पर डेटा अपलोड करने के साथ-साथ रजिस्टर में भी इसका इंद्राज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से देशभर में 16 जनवरी शनिवार को कोरोना वैक्सीन लगाने की ड्राइव लांच करेंगें। इसके तहत, शनिवार को गुरूग्राम जिला में भी 6 सैंटरों पर वैक्सीन लगाने के साथ ड्राइव की शुरूआत की जाएगी।

इस दौरान प्रधानमंत्री श्री मोदी का वीडियो कान्फ्रेंसिंग कार्यक्रम वजीराबाद स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय जोहड़ी में आयोजित होगा जिसमें वे स्वास्थ्यकर्मियों से मुखाबित भी होंगे। जिन 6 सैंटरों पर शनिवार को वैक्सीनेशन का कार्य किया जाएगा उनमें वजीराबाद का राजकीय प्राथमिक विद्यालय (जोहड़), प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भांगरौला, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दौलताबाद, सैक्टर 39 स्थित मेदंाता-द-मैडिसिटी, यूपीएचसी चैमा तथा एसजीटी मैडिकल काॅलेज शामिल हैं। बैठक मे जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एमपी सिंह ने स्वास्थ्यकर्मियों को माइक्रो प्लान के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि कोरोना की दो तरह की वैक्सीन जिला को प्राप्त हुई है जिनमें कोवैक्सीन व कोवीशिल्ड शामिल हैं। सभी स्वास्थ्यकर्मी वैक्सीनेशन संबंधी अपनी ड्यूटी को ठीक प्रकार से समझ लें ताकि किसी प्रकार की लापरवाही की गुजाईंश ना रहे। उन्होंने बैठक में वैक्सीनेशन संबंधी आवश्यक डूज एंड डोन्ट्स के बारे में विस्तार से बताया। बैठक में डाॅक्टर जयप्रकाश तथा डाॅक्टर बिंदु सहित कई अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page